Film Review: जानिए कैसी है आमिर खान की ‘दंगल’

Film Review: जानिए कैसी है आमिर खान की ‘दंगल’

मुंबई: लंबे वक्त से चर्चा में रही आमिर खान की ‘दंगल’ इस शुक्रवार रिलीज हो रही है. दंगल का निर्देशन किया है नितेश तिवारी ने और फिल्म में मुख्य भूमिकाएं निभाई हैं आमिर खान, साक्षी तंवर ने और उनकी बेटियां यानी गीता के किरदार में है फातिमा सना शेख और बबीता के किरदार में सान्या मल्होत्रा.

फिल्म की कहानी
‘दंगल’ हरियाणा के पहलवान महावीर सिंह फोगट के जीवन पर आधारित फिल्म है. एक बेटे के इंतजार में महावीर सिंह फोगट की चार बेटियां पैदा हो जाती हैं. महावीर सिंह को बेटा चाहिए क्योंकि वो अपना सपना अपने बेटे से साकार करना चाहता है. लेकिन सारे टोटके आजमा चुके फोगाट को उस समय जिंदगी में ‘किक’ मिलती है जब उसकी बेटियां अपने दांव-पेच से एक लड़के को पीट देती हैं. (ये एकदम वही वाली किक है जो सलमान खान अपनी फिल्म में ढ़ूढ रहे होते हैं.) इसके बाद ही महावीर सिंह अपनी बेटियों गीता और बबीता को कुश्ती के गुर सिखाकर उन्हें रेसलिंग का चैंपियन बनाता है.

लेकिन इस बीच किन उतार-चढ़ाव से उसे गुजरना पड़ता है और कितनी जलालत झेलनी पड़ती है ये भी दिखाया गया है. जैसा कि एक डायलॉग आपने ट्रेलर में देखा होगा कि ‘मेडलिस्ट पेड़ पर नहीं उगते, उन्हें बनाना पड़ता है प्यार से, मेहनत से, लगन से….’. इस फिल्म की ये एक लाइन अपने आप में सारे दर्द बयां कर जाती है. बाप-बेटी के रिश्ते पर बनी ये फिल्म उनके प्यार, तकरार और फटकार तक सब कुछ दिखाती है.

फिल्म में सभी किरदारों का अभिनय
इस फिल्म में अपनी मंझी हुई और बेहतरीन एक्टिंग से आमिर खान ने ये साबित कर दिया है कि उन्हें मिस्टर परफेक्शनिस्ट यूं ही नहीं कहा जाता. इस भूमिका को जीवंत करने के लिए आमिर खान ने महावीर सिंह की जिंदगी को जिया है. उनकी तरह अधेड़ दिखने के लिए आमिर ने अपना वजन बढ़ाया है, उनकी तोंद निकली हुई है. उनकी चाल, ढाल और बोली सब ऐसे बदल गई है जिसे देखकर आप भूल जाएंगे कि आप एक सुपरस्टार को देख रहे हैं.

फिल्म में गीता-बबीता का रोल
इस फिल्म में गीता और बबीता के बचपन का रोल जायरा वसीम और सुहानी भटनागर ने किया है तो वहीं बड़े होने के बाद की भूमिका फातिमा सना शेख और सान्या मल्होत्रा ने किया है. यहां अगर ज़ायरा की बात ना करें तो बेमानी होगी. ज़ायरा ने गीता को भूमिका को मजबूती दी है तो फातिमा ने उसे दमदार बना दिया है. ज़ायरा अपने रौबदार एडिट्यूड से गीता की भूमिका को और भी धाकड़ बना देती हैं.

फिल्म के म्यूजिक
इस फिल्म में प्रीतम ने म्यूजिक दिया है और अमिताभ भट्टाचार्य ने गानों के बोल लिखे हैं. सभी गाने बहुत ही शानदार हैं. ‘हानिकारक बापू’, ‘धाकड़’ और ‘गिल्हेरियां’ पहले ही पॉपुलर हो चुके हैं. अरिजित सिंह की आवाज में एक गाना है ‘नैना’ जो रूला जाता है।
रिपोर्ट, ई-24