बॉलीवुड के इन सुपर स्टार्स ने झेला अपने टूटे परिवार का गम ..


Dec. 5, 2017, 9:26 p.m.

 

बॉलीवुड के ऐसे कई स्टार्स है जो है सेपरेटेड फैमिली है, जिनका परिवार तो बिखरा लेकिन इस बिखराव ने उन्हें बहुत स्ट्रॉन्ग बनाया। उनके दिल में मम्मी-पापा के अलग होने का गम तो है लेकिन उस अलगाव ने उन्हें जिंदगी का एक पाठ पढ़ाया। हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में कई ऐसे सितारें है जिन्होंने बचपन में मम्मी पापा के अलगाव का दर्द झेला, उनमें से एक है कटरीना कैफ भी है।

 

फिल्मी पर्दे पर दर्शकों का दिल बहलाने वाली कटरीना के दिल में भी रहता है परिवार के टूटने का गम। ये एक ऐसा गम है जो उन्हें बचपन से उन्हें साल रहा है। कटरीना जब अपनी फिल्म फितूर की शूटिंग के लिए  कश्मीर गई थी । कश्मीर की खूबसूरत वादियों में कटरीना को  याद आ गए पापा। दरअसल कटरीना के पापा कश्मीर के रहने वाले थे । वो पापा जिसकी बस धुंधली सी यादे कटरीना के जेहन में है। कटरीना के पापा का नाम था मोहम्मद कैफ। कटरीना का जन्म हॉन्ग कॉन्ग में हुआ था और वो 6 बहन और एक भाई है। कटरीना जब बहुत छोटी थी तभी उनके मम्मी पापा का हो गया था डिवोर्स। कटरीना के पापा उनकी मम्मी सुजैन टरकोटे  से तलाक लेकर अमेरिका चले गए और फिर उनकी मम्मी पर आ गई थी सात के परवरिश की जिम्मेदारी। कटरीना और उनके भाई बहनों की परवरिश पर हमेशा उनकी मम्मी का प्रभाव रहा । कटरीना जब बॉलीवुड में आई थी तब उनका नाम कटरीना टरकोट था। लेकिन बॉलीवुड के हिसाब से उनका ये नाम कुछ ज्यादा ही इंग्लिश था लिहाजा फिल्म बूम की प्रोड्यूसर आएशा श्रॉफ ने कटरीना को अपने नाम के आगे इंडियन सरनेम लगाने को कहा और कटरीना टरकोटे  से कटरीना कैफ हो गई। आज कटरीना हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में सुपर स्टार है। लेकिन  वो कटरीना अपने पापा को बहुत मिस करती है। एक इंटरव्यू में कटरीना ने कहा था, ' जब मैं देखती हूं कि मेरे कई फ्रेंड्स के पिता उनकी लाइफ में पिलर की तरह देते है सपोर्ट। तब मुझे लगता है काश ये मेरी लाइफ में भी होता। लेकिन इसकी शिकायत करने के बजाय मैं इस बात के लिए ग्रेटफुल हूं कि मेरी लाइफ में बाकी दूसरी चीजें है । कटरीना को इस बात का भी मलाल है कि वो कभी स्कूल नहीं जा सकी। जब उनके मम्मी पापा का अलग हुए तो मम्मी सुजैन ने खुद सो सोशल काउज से जोड़ लिया और अपने इस काम के लिए उन्हें दुनिया के कई देशो में लेकर घूमती रही लिहाजा कटरीना को कभी स्कूल जाने का मौका नहीं मिला। उनकी पढ़ाई घर पर ही हुई।

बॉ़लीवुड में  करीना और करिश्मा का एक अलग ही जलवा रहा। दोनों ने कपूर खानदान की आन बान और शान को और आगे बढ़ाय़ा है। अक्सर करीना और करिश्मा ने पुरी फैमिली के साथ  अपने मम्मी पापा का जन्मदिन मनाती है। परिवार के साथ खुशियां बांटती हैं । लेकिन पार्टी खत्म होने के बाद मम्मी अलग रवाना होती है और पापा अलग। भले ही कई मौकोें पर ये परिवार  साथ दिखता हो लेकिन करीना और करिश्मा भी एक ब्रोकेन फैमिली से हैं। करीना करिश्मा जब छोटी थी तभी इनके मम्मी पापा हो गए थे अलग । करीना करिश्मा अपना बचपन लंबे समय तक पापा के साथ नहीं बिता पाई। बबिता और रंधीर कपूर की शादी 1971 में हुई थी। 1974 में करिश्मा का जन्म हुआ और और 1980 में करीना पैदा हुई। बबिता रंधीर की फैमिली लाइफ अच्छी चल रही थी लेकिन इस परिवार में दीवार तब खड़ी हुई जब बबिता ने ये फैसला किया कि उनकी बेटियां भी फिल्मों में काम करेगी। रंधीर और बबिता के बीच अनबन बढ़ती चली गई और फिर एक दिन बबिता ने 1983 में रंधीर का घर छोड़ दिया। सालों तक करीना -करिश्मा अपने पापा से अलग रही और बबिता ने की इनकी परवरिश। करीना करिश्मा बहुत दिनों तक अपने पापा के साथ नहीं रही।  साल 2003 में अपनी बेटियों की खातिर 20 साल बाद बबिता और रंधीर कपूर में सुलह हुई। साल 2003 में करिश्मा की शादी में दोनों ने मिलकर बेटी का कन्यादान किया । रंधीर और बबीता के बीच तलाक कभी नहीं हुआ लेकिन सालों से ये सेपरेटेड है। जब जब कपूर फैमिली किसी फंक्शन पर होची है साथ तो ये दिखते है साथ साथ लेकिन आज भी रहते रहते अलग अलग है और मम्मी पापा के सेपरेशन का असर करीना - करिश्मा की जिंदगी पर पड़ा।

 

 शाहिद कपूर आज बॉलीवुड के सुपर हिट स्टार है।  उनकी अपनी एक अलग पहचान है लेकिन शाहिद कपूर भी हैं सेपरेटिड़ फेमली से । शाहिद ने महज 3 साल की उम्र में ही अपने पेरेंटस को अलग होते देखा। शाहिद के पिता  पंकज कपूर और मां नीलिमा अजीम के बीच तलाक हो गया । शाहिद के मम्मी पापा पंकज कपूर और नीलिमा अजीज दोनों ही थिएटर से ताल्लुक रखते थे दोनो ने 1975 में की थी शादी। 1981 में हुआ था शाहिद का जन्म लेकिन  1984 में शाहिद के मम्मी पापा हो गए अलग। इसी दौरान के पापा पंकज कपूर ने 1989 में बॉलीवुड एक्ट्रेस सुप्रिया पाठक से शादी कर ली तो वहीं उनकी मम्मी ने टीवी एक्टर राजेश खट्टर से। शाहिद लंबे समय तक अपने नाना नानी के पास दिल्ली में रहे। शाहिद की परवरिश पापा के साथ नहीं हो पाई लेकिन जब शाहिद बड़े हुए और बॉलीवुड में करियर बनाने पहुंचे तो उनकी लाइफ की वो कमी हो गई पुरी। शाहिद आज उसी अपार्टमेंट में रहते है जहां उनके पापा रहते है। शाहिद के मम्मी पापा दोनों का आज अपना अपना अलग परिवार और शाहिद दोनों परिवारों के परिवारों के साथ अपना तालमेल बिठाए रहते है। अपने हाफ ब्रदर और सिस्टर्स के साथ उनके बहुत अच्छे रिश्ते है।

बॉलीवुड हीरोइन  श्रुति हासन और अक्षरा हासन भी सेपरेटेड फैमिली से है। जिस वक्त  श्रुति के मम्मी पापा कमल हासन और सारिका अलग हुए, उस वक्त उनकी बेटी अक्षरा बहुत छोटी थी। बेहद कम उम्र में माता-पिता को अलग होते देख चुकी अक्षरा का कहना है कि इन हालातों ने उन्हें और मजबूत बनाया है। अक्षरा कमल और सारिका की छोटी बेटी हैं। 2002 में दोनों अलग हो गए थे और इसके दो साल बाद दोनों ने तलाक ले लिया। अक्षरा की माने तो जब उनके पेरेट्स अलग हुए, तो उससे वो और मजबूत हुई । अक्षरा का मानना है कि अगर उनके मम्मी पापा साथ रहकर खुश नहीं थे तो अच्छा ही हुआ कि वो अलग हो गए।मम्मी पापा एक दूसरे से अलग हुए तो इस दौरान वो सारिका और बड़ी बहन श्रुति के करीब आई।अक्षरा और श्रुति के बीच बेहद प्यार है। अक्षरा कहती की माने तो ,वो और श्रुति एक दूसरे का बहुत ख्याल रखती हैं।  

अर्जुन के पापा बोनी कपूर ने बी टाऊन में कई स्टार्स को किया लॉन्च लेकिन अपने बेटे को वो लॉन्च नहीं कर सके । अर्जुन कपूर को बॉलीवुड में काम पाने के लिए स्ट्रगल करना पड़ा और फिर य़शराज बैनर ने उनके टैलेंट को पहचाना। अर्जुन कपूर जब दस साल के थे तो उनके पापा बोनी कपूर ने मम्मी मोना कपूर का साथ छोड़कर श्रीदेवी से शादी कर ली थी। अर्जुन कपूर ने कई बार अपने इंटरव्यू में  अपने घर की कहानी बयां की है। उनकी बातों से साफ जाहिर होता  है कि उनके और सौतेली मां श्रीदेवी के बीच है सबकुछ बेहतर नहीं है। अर्जुन कपूर आज भी अपनी स्टेप मॉम श्रीदेवी को माफ नहीं कर पाए है । अपनी मां मोना कपूर का वो गम भूल नहीं पाएं है। 5 साल पहले अर्जुन की मां मोना कैंसर की वजह से चल बसी और कहीं ना कहीं अपने परिवार के बिखरने का कारण वो श्रीदेवी को मानते है।  

Related news