असहिष्णुता पर अब एआर रहमान बोले, मैंने भी आमिर जैसे हालात का सामना किया

3 years ago

नई दिल्ली (25th November): असहिष्णुता पर आमिर खान के बयान पर उठे विवाद के बीच म्यूजिक कम्पोजर एआर रहमान ने कहा है कि कुछ महीने पहले उन्हें भी आमिर खान जैसे हालात का सामना करना पड़ा था। एक अंग्रेजी अखबार की खबर में यह दावा किया गया।

बता दें कि आमिर ने सोमवार को कहा था कि देश का माहौल देखकर उनकी पत्नी किरण राव ने एक बार पूछा था कि क्या उन्हें देश छोड़ देना चाहिए? सोमवार रात रामनाथ गोयनका अवॉर्ड्स फंक्‍शन में आमिर ने कहा था कि देश का माहौल देखकर एक बार तो पत्नी किरण ने बहुत बड़ी और डरावनी बात कह दी थी। किरण ने पूछा था कि क्या हमें देश छोड़ देना चाहिए? किरण बच्चे की हिफाजत के लिए डर महसूस कर रही थीं।

रहमान मंगलवार रात पणजी में 46वें इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया में मौजूद थे। उन्होंने कहा कि कुछ महीने पहले मैं भी इसी तरह के हालात से गुजरा हूं। रहमान ने एक फतवे के रेफरेंस में यह बात कही।

दरअसल, मुंबई की रजा एकेडमी ने उनके खिलाफ फतवा जारी किया था। यह फतवा ईरान की अब तक की सबसे महंगी फिल्म ‘मोहम्मद : मैसेंजर ऑफ गॉड’ में रहमान के दिए म्यूजिक के खिलाफ था। फिल्म की कॉस्ट 253 करोड़ रुपए थी। फतवे में कहा गया था कि ईरानी फिल्म इस्लाम का मजाक उड़ाती है। जो मुस्लिम फिल्म में काम कर रहे हैं, खासकर मजीदी और रहमान, वे नापाक हो गए हैं और उन्हें फिर से कलमा पढ़ने की जरूरत है।

फिल्म फेस्टिवल में रहमान ने कहा कुछ भी हिंसक नहीं होना चाहिए। हम अल्ट्रा-सिविलाइज्ड लोग हैं। हमें दुनिया को यह दिखाना चाहिए कि भारत में बेस्ट सिविलाइजेशन है। हमें दुनिया को बताना चाहिए कि हम महात्मा गांधी की जमीन से ताल्लुक रखते हैं। गांधीजी ने बताया था कि हिंसा के बिना भी हम कैसे रिवॉल्यूशन ला सकते हैं।

Related Posts