करण जौहर ने बयां किया अपना दर्द, उरी हमलें को लेकर !!!

2 years ago
karanjohar-1
मुंबई: बॉलीवुड के मशहूर फिल्‍ममेकर करण जौहर ने पाकिस्‍तानी कलाकारों को भारत छोड़ने के मामले में प्रतिक्रिया ब्‍यक्त की है। उन्‍होंने बताया कि, उरी में आतंकी हमले से मुझे बहुत दुख होता है। मैं अपने देश के लोगों के गुस्‍से को समझता हूं। लेकिन पाकिस्तान से भारत आये कलाकारों का बहिष्कार कर देना देश में फैले आतंकवाद का हल नहीं है।

जानकारी दें दे कि, करण जौहर का यह बयान दरअसल मनसे की तरफ से फवाद खान और माहिरा खान जैसे पाकिस्तानी कलाकारों को भारत छोड़ने की धमकी देने के बाद आया है। इन कलाकारों को यह भी कहा गया कि, यदि वे भारत नहीं छोड़ेंगे तो उनकी फिल्मों की शूटिंग रुकवा की जाएगी।

बता दें कि, करण जौहर की मचअवेटेड फिल्‍म ‘ए दिल है मुश्किल’ इस दिवाली पर रिलीज़ होने वाली है, जिसमें अभिनेता फवाद ख़ान अभिनय कर रहे हैं।

फिल्‍ममेकर करण जौहर ने एक न्यूज चैनल को बताया, ‘‘मैं हमारे आसपास के गुस्से को समझता हूं और इसके साथ सहानुभूति रखता हूं।  कोई भी चीज आतंक के इस भयावह एक्सपीरिएंस को सही नहीं ठहरा सकती। फिर आपका सामना इस किस्म की स्थिति (पाक कलाकारों पर प्रतिबंध लगाने के लिए कहने) से होता है. यदि यह वाकई हल होता तो यह कदम उठाया जा चुका होता। ’’

उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन यह हल नहीं है। मैं इसमें यकीन नहीं रखता। इस स्थिति को सुलझाने के लिए बड़े प्रभावशाली पक्षों को एकसाथ आना चाहिए और यह हल हुनर या कला को प्रतिबंधित करके नहीं निकाला जा सकता। ’’ करण ने कहा कि इस बारे में सार्वजनिक तौर पर बोलने के दौरान वह ‘कमजोर’ महसूस करते हैं।

साथ ही करण ने, ‘‘ऐसा कहते हुए भी मैं खुद को कमजोर और डरा हुआ महसूस करता हूं। मैं दर्द और गुस्से को पूरी तरह महसूस करता हूं। अगर मेरी फिल्म को इसकी वजह से निशाना बनाया जाता है तो यह मुझे बेहद दुखी कर देगी क्योंकि मेरा इरादा प्यार से एक चीज लेकर आने का था, कुछ और नहीं। ’’

गौरतलब हो कि, करण जौहर काफी दिनों बाद फिल्‍म ला रहे हैं, जिसका निर्देशन और उनका प्रोडक्‍शन हाउस काम कर रहा है। अगर फिल्‍म को लेकर कुछ ऐसा हुआ तो उनका बहुत ज्‍यादा नुकसान का सामना करना पड़ा सकता है।

Related Posts