जब अमिताभ के कारण आतंकियों ने पत्रकार को किया रिहा

3 years ago

मुंबई (24th April):अमिताभ बच्चन के फैन्स तो दुनिया में हर जगह हैं, लेकिन इस बार हम आपको एक ऐसे फैन से मिलाने जा रहे हैं जो वैसे तो दुनिया में आंतक फैलाने का काम करता है। यह बात सुनकर आप भी चौंक गए होंगे, लेकिन यह बात बिल्कुल सच है।

इराकी आंतकवादियों के बीच भी अमिचाभ बच्चन उतने ही मशहूर हैं, इसका पता तब चला जब एक सीनियर जर्नलिस्ट ने उनसे जुड़ी एक घटना का जिक्र किया। जर्नलिस्ट एस. हुसैन ज़ैदी ने अपने साथ हुए इस वाक्ये का बयां कुछ इस तरह से किया है।

हाल ही में हुए बुक लॉन्च पर ज़ैदी से पूछा गया तो ज़ैदी ने ये बातें साझा की। उन्होंने बताया कि जब वह एक बार बगदाद में सद्दाम हुसैन के बारे में लोगों से पूछताछ करने गए थे तब कुछ इराकी लोगों ने उन्हें किडनैप कर लिया था और उनकी आंखों में पट्टी बांधकर उन्हें किसी सुनसान जगह ले गए थे। वे आतंकवादी उनसे बार-बार अमीषा बक्कन के बारे में पूछ रहे थे। जब उन्हें पता चला कि ज़ैदी भारत से हैं तो उन्होंने उनसे पूछा कि क्या तुम अमीषा बक्कन को जानते हो? ज़ैदी को उनकी बातों से लगा कि वे अमीषा पटेल के बारे में उनसे जानना चाह रहे हैं, लेकिन ऐसा नहीं था।

आखिरकार एक शख्स रूम के अंदर गया और वहां से फिल्म शक्ति का पोस्टर उठा लाया, जिसमें अमिताभ बच्चन की तस्वीर थी। उस शख्स ने एक कागज पर लिखकर दिया कि यदि वह कभी भी मुंबई आता है तो क्या ज़ैदी उसे अमिताभ बच्चन से मिलवाएंगे? आखिरकार ज़ैदी को अपनी जान बचाने के लिए हां करना ही पड़ा और तब जाकर कहीं ज़ैदी वहां से निकल पाए।

Related Posts