"डिटेक्टिव ब्योमकेश बख्शी" देखने की सोच रहे हैं तो पहले इसे पढ़ें

3 years ago

नई दिल्ली(4th April):बॉलिवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मोस्ट अवेटेड फिल्म "डिटेक्टिव ब्योमकेश बख्शी" बड़े पर्दे पर रिलीज हो गई है। फिल्म का निर्देशन दिबाकर बनर्जी ने किया है।

इससे पहले दिबाकर ने खोंसला का घोंसला, ओए लकी! लकी ओए!, लव सेक्स और धोखा, शंघाई जैसी उम्दा फिल्मों का निर्माण कर चुके है। फिल्म डिटेक्टिव ब्योमकेश बख्शी के माध्यम से दिबाकर ने 1942 के कलकत्ता को बड़े पर्दे पर उतारने की अच्छी कोशिश की है।

फिल्म की कहानी एक जासूस डिटेक्टिव ब्योमकेश बख्शी (सुशांत सिंह राजपूत) के इर्द गिर्द घूमती है, जो कलकत्ता के विद्या सदन कॉलेज में पढ़ता है। एक दिन उसका एक दोस्त अजीत (आनंद तिवारी) उसे अपने किसी परिचित के अचानक गायब होने की बात बताता है। बस फिर क्या था... बख्शी उसे ढूंढ़ने की ठानता है। जहां उसकी यह खोज एक मर्डर मिस्ट्री का रूप ले लेती है।

कहानी में टि्वस्ट तब आता है जब उसकी मुलाकात अंगुरी देवी (स्वास्तिका मुखर्जी) और डा. अनुकूल गुहा (नीरज कबि) से होती है। यह जानना चाहते हो कि यह कहानी सुलझती है या नहीं, गायब हुए शख्स को ढूंढ़ने में बख्शी अपनी दोस्त की मदद कर पाता है या फिर यह मर्डर मिस्ट्री साबित होती है। इसके लिए सिनेमाघरों का रूख करना होगा।

Related Posts