पाकिस्तानी फिल्म नहीं दिखाई जाएगी IFFI 2016 में

2 years ago

मुबई: सूचना एवं प्रसारण मंत्री श्री एम.वेंकैया नायडू ने कहा कि सरकार ने अंतरराष्‍ट्रीय फिल्‍म महोत्‍सवों में भारतीय सिनेमा को बढ़ावा देने के लिए एक ‘फिल्‍म प्रोत्‍साहन कोष’ बनाने की दिशा में एक नई पहल की है। इस पहल से स्‍वतंत्र फिल्‍म निर्माताओं को विश्‍व भर में अपनी रचना का प्रचार करने में मदद मिलेगी। वही आगामी 47वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह (आईएफएफआई) को लेकर ख़बर आ रही है कि इस समारोह में पाकिस्तानी की कोई भी फिल्म नहीं दिखाई जाएगी।

इस समारोह में पाकिस्तानी फिल्म इस लिए नही दिखाई जा रही है क्योंकि पाकिस्तान से मिली दो प्रविष्टियां इसकी ‘कसौटी के अनुरूप नहीं’ पाई गई हैं. आईएफएफआई के 47वें संस्करण का शुभारंभ 20 नवंबर को गोवा में होगा और इसका समापन 28 नवंबर को होगा। केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री एम. वेंकैया नायडू ने केंद्रीय सूचना और प्रसारण राज्य मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़, गोवा के उप मुख्यमंत्री फ्रांसिस डिसूजा और फिल्म समारोह के निदेशक सेंथिल राजन के साथ मंगलवार को फिल्म समारोह के पोस्टर का अनावरण करने के लिए एक संवाददाता सम्मेलन का आयोजन किया।

गौर हो आईएफएफआई 2016 के लिए विश्व भर से कुल मिलाकर 1032 प्रविष्टियां प्राप्त हुई हैं, जिनमें से 88 देशों की 194 फिल्में दिखाई जाएंगी, लेकिन इसमें पाकिस्तान की फिल्में शामिल नहीं हैं। इससे पहले हुए 2007 आईएफएफआई के 38वें संस्करण में पाकिस्तानी फिल्म ‘खुदा के लिए’ की स्क्रिनिंग की गई थी। रिपोर्ट, ई-24

Related Posts