पाकिस्तान में दिलीप कु्मार का पुश्तैनी घर ढह गया, पाक सरकार ने नहीं दिया ध्यान

1 years ago
पेशावर ( 13 जून ) ट्रेजडी किंग दिलीप कुमार का पाकिस्तान के पेशावर शहर में स्थित जर्जर पुश्तैनी घर ढह गया। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने जुलाई 2013 में  दिलीप कुमार के घर राष्ट्रीय विरासत भी घोषित किया था। पाकिस्तान की सरकार ने दिलीप कुमार के जर्जर घर की मरम्मत नहीं करवाई इसलिए उनका मकान गिर गया। इस घर को लेकर पहले से ही खबरे आ रही थी कि ये कभी भी गिर सकता है। ये घर पेशावर शहर में खुदाबाद मोहल्ले के किस्सा ख्वानी बाजार में था  । दिलीप कुमार का यह पुश्तैनी घर 130 वर्ग मीटर में फैला था। मोहम्मद यूसुफ़ ख़ान उर्फ दिलीप कुमार का  जन्म 11 दिसंबर 1922 को पेशावर में हुआ था।  साल 1930 में 12 सदस्यों वाला ये परिवार पेशावर से सपनों की नगरी मुंबई में शिफ्ट हो गया।   इस मकान में दिलीप कुमार के पिता दादा गुलाम सरवर का बनाया कबूतर खाना आज भी मौजूद था..लेकिन ये अब वीरान पड़ा हुआ था....दिलीप कुमार के भारत आने के बाद उनके पिता की बहन काफी दिनों तक इस मकान में रहती रहीं उनकी मौत के बाद पड़ोस के लोगों ने उनके मकान पर कब्जा करने की कोशिश की लेकिन अदालत की दखल के बाद ऐसा नहीं हो पाया । दिलीप कुमार का पाकिस्तान में क्रेज काफी ज्यादा था.वो जब भी पाकिस्तान गए लोग उनकी एक झलक पाते के लिए बेताब हो जाते थे...इसी वजह से हिंदी फिल्मों के महान अभिनेता दिलीप कुमार के पाकिस्तान के घर को राष्ट्रीय विरासत घोषित किया गया और उन्हें निशान ए इम्तियाज से नवाजा गया  खबरों के अनुसार दिलीप कुमार ने साल 1988 में पाकिस्तान गए थे। तब वो अपने पुश्तैनी घर भी गए थे और वहां जाकर उन्होंने इस घर की मिट्टी को चूमा था। दिलीप कुमार अब 94 वर्ष के हो चुके हैं। वैसे दिलीप कुमार के अलावा पृथ्वीराज कपूर, विनोद खन्ना और शाहरुख खान जैसे बड़े सितारों का भी पेशावर से नाता रहा है।

Related Posts