'प्लेब्वॉय' मैगज़ीन ने न्यूडिटी को कहा बॉय-बॉय

3 years ago

नई दिल्ली (14th October): 'ओनली फॉर एडल्ट्स' के लिए प्रकाशित होने वाली मैगज़ीन 'प्लेब्वॉय' ने फैसला किया है कि वो अब न्यूड मॉडल्स की फोटो नहीं छापेगी।

अमेरिकी अख़बार 'न्यूयॉर्क टाइम्स' की रिपोर्ट के मुताबिक मैगज़ीन ने खुद को नया कलेवर देने के लिए सब कुछ नया डिजाइन कराया है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि प्लेब्वॉय के मालिक का कहना है कि इंटरनेट ने न्यूडिटी को अब पुरानी बात बना दिया है। ऐसे में पॉर्न मैगज़ीन छापना अब मुनाफ़े का सौदा नहीं रह गया है।

बता दें कि 1953 में स्थापित 'प्लेब्वॉय' का सर्कुलेशन 1970 के दशक में क़रीब 56 लाख प्रतियां था, जो अब घटकर क़रीब आठ लाख ही रह गया है।

मैगज़ीन की ओर से साफ़ किया गया है कि महिलाओं के बोल्ड फोटो छापना बंद नहीं करेगी। लेकिन न्यूड फोटो अब नहीं छपेंगी।

मैगज़ीन प्रबंधन ने जिस बैठक में ये फैसला लिया उसमें प्लेब्यॉय के संस्थापक और वर्तमान में प्रमुख संपादक ह्यू हेफ़नर भी मौज़ूद थे।

'न्यूयार्क टाइम्स' के मुताबिक़ पत्रिका के मुख्य कार्यकारी स्कॉट फ्लैंडर ने स्वीकार किया कि पत्रिका ने जिन बदलावों की शुरूआत की थी, उन्हीं में वो पीछे छूट गए हैं। उन्होंने कहा कि इंटरनेट पर आप सेक्स की हर भाव-भंगिमा से केवल एक क्लिक दूर हैं, जो मुफ़्त में उपलब्ध है।"

Related Posts