बॉम्बे HC फिल्‍म ‘उड़ता पंजाब’ केस को लेकर किया यह फैसला!

2 years ago

मुंबई : बॉलीवुड के मशहूर निर्देशक अनुर ाग कश्‍यप जो अपनी फिल्‍मों में हमेशा से सच की प्रष्‍ठभूमि को दर्शाने का हमेशा प्रयास करते हैं, यहां तक वह हमेशा से वह इसमें वह सक्‍सेस भी हो जाते हैं। वह अब एक और फिल्‍म लेकर आ रहे हैं जो पंजाब में ड्रग्‍स माफिया के बारें में सबको रूबरू कराना चाहते हैं। जी हां, अनुराग कश्‍यप की अपकमिंग फिल्‍म 'उड़ता पंजाब' को लेकर वह बुधवार को बॉम्बे हाईकोर्ट पहुंच गए। काफी सुनवाई के बाद कोर्ट ने इस मामले की सुनवाई को कल तक के लिए टाल दिया है। अब गुरुवार को सुनवाई होगी। सेसंर बोर्ड चीफ निहलानी का क्या है कहना?सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष पहलाज निहलानी का कहना है कि, फिल्म को लेकर अनुराग कश्‍यप बेवजह विवाद खड़ा कर रहे हैं। उन्‍होंने बोला कि, यह सब कुछ अनुराग कश्यप का पब्लिसिटी स्टंट है।  फिल्म के 73 फीसदी हिस्से को मंजूरी दी गई है। फिल्म में 89 कट की बात नहीं की गई है। फिल्‍म में जो भी कट किये जाते हैं वह कट पैनल के मेंबर्स के द्वारा किया जाता है। मुझ पर अनुराग द्वारा लगायें गये आरोप बेबुनियाद हैं। फिल्‍मकार महेश भट्ट भी इस विवाद में कूद पड़े हैं, उन्‍होंने ऐसा बयान दिया है कि, वह कहते हैं कि, भारत में सऊदी अरब जैसा माहौल बनाया जा रहा है, हम अनुराग कश्यप के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं।

https://twitter.com/MaheshNBhatt/status/740090921480552448 https://twitter.com/MaheshNBhatt/status/740106136183918592

एफटीआईआई के अध्यक्ष गजेंद्र चौहान से जब उड़ता पंजाब पर चल रहे विवाद पर प्रतिक्रिया मांगी गई तो उन्होंने कहा, 'देखिए, जब भी कोई संस्था कोई फैसला करती है, तो कुछ नियमों के अंदर ही करती है। पहलाज निहलानी को इस देश की चुनी हुई सरकार ने एक जिम्मेदारी दी है। वह सिनेमा से जुड़े हुए एक सुलझे हुए व्यक्ति हैं। काफी अनुभवी हैं, खुद प्रोड्यूस भी रहे हैं। इसलिए मुझे लगता है कि उन्होंने 'उड़ता पंजाब' को लेकर जो फैसला लिया, वो नियमों के अंर्तगत ही लिया होगा।'

Related Posts