'मोहल्ला अस्सी' के प्रोमो में गालियों की भरमार, बनारस में कड़ा विरोध

3 years ago

वाराणसी(18th June):अभिनेता सनी देओल की नई फिल्म 'मोहल्ला अस्सी' का दो मिनट का प्रोमो जारी होते ही विवादित हो गया है। 'चाणक्य फेम' डॉ चंद्र प्रकाश द्विवेदी के निर्देशन में बनी इस फिल्म के कुछ संवादों को लेकर बनारस में कड़ी आपत्ति जताई गई है। दरअसल प्रोमो में दो जगह महिलाओं की ओर से और एक जगह भगवान भोले की ओर से गाली का उच्चारण करते दिखाया गया है।

सोशल मीडिया पर वायरल हो चुके प्रोमो के विडियो को लेकर बनारस में बौद्धिक से लेकर आम लोग रोष जता रहे हैं। उनका कहना है कि इससे बनारस की संस्कृति को ग़लत ढंग से पेश किया गया है। बता दें कि फिल्म मोहल्ला अस्सी की काफी शूटिंग बनारस में ही की गई है। यह फिल्म प्रसिद्ध कथाकार डा. काशी नाथ सिंह के उपन्यास काशी का अस्सी पर आधारित है।

फिल्म के निर्देशक डॉ चंद्र प्रकाश द्विवेदी ने कहा है, 'मेरा सिर्फ इतना अनुरोध है कि लोग 28 तक तक इंतजार करें। सभी की बातों का जवाब मिल जाएगा। मैं खुद सब स्पष्ट करुंगा। अभी बस इतना कह सकता हूं कि मैं सत्य के साथ हूं।'

फिल्म में अस्सी की अड़ी के भी कई किरदारों को केंद्र बिंदु रखकर ताना-बाना बुना गया है। प्रोमो को लेकर खुद अस्सी की अड़ी बुधवार की शाम आक्रोशित दिखी। सनी देओल को अशोक पांडेय के मूल किरदार में दिखाया गया है। अशोक पांडेय का कहना है कि उपन्यास में कहीं भी वैसा जिक्र नहीं है जैसा कि फिल्म में दिखाया जा रहा है। हिंदू समाज की आस्था के साथ कभी मकबूल आलम पेंटिंग से तो कभी आमिर खां फिल्म पीके से अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की आड़ में खिलवाड़ करते हैं। इसी तरह से मोहल्ला अस्सी को हिट कराने के लिए भी उपक्रम किया जा रहा है। आपत्ति जनक सभी अंश फिल्म से हटाने या फिल्म रिलीज पर प्रतिबंध की मांग की जा रही है।

डॉ काशीनाथ सिंह का इस विवाद पर कहना है कि महज दो मिनट के प्रोमो के आधार पर कोई बात कैसे कही जा सकती है। पूरी फिल्म देखने के बाद ही टिप्पणी की जा सकती है। वैसे भी इस बात पर निर्देशक से जवाब मांगा जाना चाहिए, वे तो सिर्फ लेखक हैं।

 

 

Related Posts