18 साल में क्यों हुई 18 दिन की जेल? ये है सलमान खान केस की पूरी कहानी..

2 years ago

मुंबई : चिंकारा केस में सलमान खान को बड़ी राहत मिली है। जोधपुर हाई कोर्ट ने उन्हें इस केस मे बरी कर दिया है। बता दें कि हाईकोर्ट में मई महीने के आखिरी हफ्ते में इस मामले में बहस पूरी हो गई थी। बहस पूरी होने के बाद न्यायाधीश ने अपना फैसला फैसला सुरक्षित रख लिया था।

क्या था मामला

साल 1998 में 'फिल्म हम साथ-साथ हैं' की शूटिंग के दौरान घोड़ा फार्म भवाद के पास हुए हिरण शिकार के मामलों में सोमवार को राजस्थान हाईकोर्ट अपना फैसला सुनाया । इन मामलों में अधीनस्थ अदालत ने अभिनेता सलमान खान को पांच साल और एक साल के कारावास की सजा सुनाई थी। इन्हीं मामलों में सलमान की ओर से दायर निगरानी याचिकाओं पर सोमवार को फैसला सुनाया गया ।

फैसला सलमान के पक्ष में आया ऐसे में राज्य सरकार मामले के सुप्रीम कोर्ट जाने की ज्यादा संभावना है। सलमान के विरुद्ध फैसला आने पर वे राहत के लिए खुद सुप्रीम कोर्ट जा सकते हैं। गौरतलब है कि हाईकोर्ट में भवाद मामले में दायर निगरानी याचिका पर गत 13 मई को सुनवाई पूरी होने के बाद और घोड़ा फार्म हाउस मामले में 16 मार्च को सुनवाई पूरी कर जस्टिस निर्मलजीत कौर ने फैसले सुरक्षित रख रखे थे।

18 साल में 18 दिन जेल में काटे:
 
सलमान हिरण शिकार के तीन मामलों में पुलिस न्यायिक अभिरक्षा में 18 दिन जेल में रह चुके हैं।16 अगस्त, 1999 का है जब हिरण शिकार प्रकरण में आरोपी पहली बार पेशी पर आए थे और मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट सीजेएम प्रबोध वशिष्ट के सामने पेश हुए। पुलिस को उम्मेद भवन में सलमान के कमरे की तलाशी में बंदूक गोलियां मिली थी। जिप्सी में मिले छर्रे, उन गोलियों के नहीं थे। हिरण का गला रेतने वाला चाकू बरामद किया था, जब्ती में रखा चाकू पॉकेट वाला है जिससे गला रेतना मुश्किल होता है।
वन विभाग ने जिप्सी जब्त कर तलाशी ली। इसकी सर्च रिपोर्ट में सिर्फ खून के धब्बे मिले। बाद में पुलिस ने भी जिप्सी की तलाशी ली तो उन्हें जिप्सी में छर्रे हिरण के बाल मिल गए जो वन विभाग की तलाशी में नहीं मिले। ऐसे दोनों सर्च रिपोर्ट भी अलग-अलग हो गई।
भवाद और घोड़ा फार्म हाउस के मुकदमों में सलमान के साथ 12 आरोपी थे। 10 काे संदेह का लाभ मिला। मुंबई का रहने वाला शिकार के लिए कैसे उम्मेद पैलेस से निकला, कैसे पता चला कि हिरण यहां मिलेंगे। कोई तो उसे ले गया होगा? जब दूसरे बरी हो गए तो सलमान अब तक आरोपी क्यों है?
वन अधिकारी ललित बोड़ा ने दवा व्यापारी अरूण के ड्राइवर हरीश दुलानी के बयान पर शिकार के मुकदमे दर्ज कराए थे। वन विभाग ने मजिस्ट्रेट के समक्ष बयान करवा कर उसे छोड़ा था। डिफेंस की ओर से उसका क्रास वेरिफिकेशन ही नहीं हुआ, वह गायब हाे गया। और अब सलमान के लिए बड़ी राहत कि वो इन दोनों मामलों में बरी हो गए है।

Related Posts