VIDEO- पाकिस्तान में परफोर्मेंस देने के बाद अब मीका सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मांगी माफी

3 weeks ago

बॉलीवुड के जाने माने सिंगर मीका सिंह अक्सर खबरों में रहते हैं। खास बात ये है कि मीका के खबरों में रहने की वजह ज्यादातर विवाद ही होते हैं। बीते दिनों ही मीका सिंह ने कुछ ऐसा किया, कि उन्हें बैन करने तक की नौबत आ गई थी। दरअसल मीका पिछले दिनों ही पाकिस्तान की एक शादी में गए थे। देश में ऐसे तनावपूर्ण माहौल में मीका सिंह पाकिस्तान गए थे। लेकिन अफसोस मीका को पाकिस्तान जाना भारी पड़ गया। बता दें कि मीका सिंह पाकिस्तान में परवेज मुशर्रफ की किसी रिश्तेदार की शादी में परफॉर्म करने के लिए गए थे। बाद में ऑल इंडिया सिने वर्कर्स एसोसिएशन (AICWA) ने मीका सिंह पर बैन लगा दिया था। अब आखिरकार मीका ने माफी मांग ली है। मीका ने हाल ही में माफी मीडिया के सामने आकर मांगी है। मीका ने बताया है कि उन्हें नहीं पता था कि ऐसा कुछ होने वाला है। 

मीका ने कहा कि वो पाकिस्तान 3 अगस्त को ही पहुंच गए थे जबकि जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 उसके ठीक दो दिन बाद यानि 5 अगस्त को हटाया गया है। मीका ने बताया कि, मेरा ऐसा नहीं था कि मुझे ये शो करना ही करना है। मैं वहां गया और तुरंत इधर ऐसा हो गया। वहीं इस दौरान मीका की मीडिया से भी थोड़ी बहस हुई, जहां वो ये कहते नजर आए कि कुछ महीने पहले नेहा कक्कड़, आतिफ असलम और सोनू निगम का शो हुआ है। तो आप लोग क्यों नहीं बोलते हैं। मीका ने खुद ये प्रेस कॉन्फ्रेंस की है और माफी मांगी है। बता दें कि इससे पहले मीका ने फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंड‍िया सिने एम्पलॉई (FWICE) को लेटर भी लिखा था। जिसके बाद मीका ने फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंड‍िया सिने एम्पलॉई के अध्य़क्ष बी एन तिवारी का एक वीडियो शेयर किया था। 

इस वीडियो में बी एन तिवारी ने मीका के बारे में बताया था। इस वीडियो में बी एन तिवारी जानकारी दे रहे है कि, आखिर मीका ने अपने लेटर में क्या कहा औऱ उनकी क्या बातचीत हुई। वो वीडियो में बता रहे हैं कि, मीका ने पत्र में कहा है कि वह सभी चीजों के लिए सहमत होने को तैयार है जो परिसंघ फैसला करता है। अगर मैंने कुछ गलत किया है, तो मैं राष्ट्र से माफी मांगने के लिए तैयार हूं, लेकिन जब तक आप मेरी बात नहीं सुनते, कृपया मुझ पर किसी भी तरह का प्रतिबंध न लगाएं। मीका की पाकिस्तान में परफोर्मेंस के बाद सोशल मीडिया पर भी लोगों ने उन्हें खूब भला बुरा कहा था।