single-post

गहने बेचकर अपना घर चला रही है ये मशहूर टीवी एक्ट्रेस, पाई-पाई को मोहताज हुईं नुपुर अलंकार !

Oct. 9, 2019, 2:14 p.m.

कहते हैं कि वक्त बदलते हुए देर नहीं लगती है। कब किसके साथ क्या हो जाए कुछ कहा नहीं जा सकता है। आज आप यहां है और कल ना जाने कहां होंगे इसके बारे में कोई कुछ नहीं जानता है। बॉलीवुड और टीवी की दुनिया में भी कुछ ऐसा ही है। यहां स्टार्स के गुम में होने में कोई वक्त नहीं लगता है। अब टीवी की एक ऐसी ही एक्ट्रेस हैं, जिनके ऊपर इस वक्त संकट के बादल मंडरा रहे हैं। आलम ये है कि एक्ट्रेस को खाने के लिए अपनी ज्वैलरी तक बेचनी पड़ रही है। अब बताते हैं कि आखिर ये एक्ट्रेस है कौन। ये एक्ट्रेस कोई और नहीं बल्कि टीवी एक्ट्रेस नूपुर अलंकार हैं। नुपुर की जिंदगी में इस वक्त तूफान आया हुआ है। 

नुपुर इतनी दुखी हैं वो खाने तक को तरस गई हैं। दरअसल हुआ ये है कि, बीते दिनों ही 24 सितंबर को भारतीय रिजर्व बैंक ने पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक (PMC) को नोटिस जारी किया था। आरबीआई ने बैंक पर छह महीनों के लिए लेनदेन समेत कई तरह के प्रतिबंध लगा दिए हैं जिसके बाद अब पीएमसी बैंक कोई नया लोन जारी नहीं कर सकता है। यही नहीं बैंक का कोई ग्राहक 25,000 रुपये से ज्यादा नहीं निकाल सकता है।

 नूपुर के बैंक अकाउंट्स इसी बैंक में हैं इस वजह से वो इस परेशानी की शिकार हुई हैं। नुपुर के पास अब पैसे भी नहीं बचे हैं, जिससे वो अपनी आम जिंदगी को जी सकें। उन्हें अपने दोस्तों से भी उधार मांगने पड़ रहे हैं। खुद एक इंटरव्यू में नुपुर ने कहा है कि, पैंसों को लेकर इस वक्त में बहुत मुश्किल में हूं। मैं एक बड़े वित्तीय संकट का सामना कर रही हूं। मेरे पास दूसरे बैंकों में भी खाते थे, जिन्हें मैंने कुछ साल पहले इस बैंक में ट्रांसफर किया था। मुझे कैसे पता होगा कि मेरे परिवार के सदस्य- पति, मां, बहन, ननद, ससुर और मेरी जिंदगी भर के बचत को इस तरह फ्रीज कर लिया जाएगा।' इसके साथ ही नुपुर ने कहा कि, बिना पैसे के गुजारा हो ही नहीं सकता है। क्या मुझे अब अपना घर गिरवी रख देना चाहिए। मेरे अपनी मेहनत से कमाए पैसे को निकालने पर ये पाबंदी क्यों लगी है। मैं पूरा इनकम टैक्स भरती हूं, फिर मुझे आज समस्या क्यों हो रही है। अभी हाल में एक सर्कुलर आया है कि बच्चों की पढ़ाई और मेडिकल इमरजेंसी में 50 हजार से एक लाख रुपये निकाले जा सकते हैं लेकिन उससे पहले हमारे परिवार में एक सदस्य बीमार था। हम उसे अस्पताल में नहीं भर्ती करा पाए। हमारे डेबिट और क्रेडिट कार्ड भी काम नहीं कर रहे हैं। अगले जनम मोहे बिटिया ही कीजो, फुलवा और स्वरागिनी जैसे शोज में नुपुर काम कर चुकी हैं।