पीएम नरेंद्र मोदी की बायोपिक से नहीं हटी रोक, SC ने हस्तक्षेप करने से किया इंकार

4 weeks ago

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बनी बायोपिक फिल्म पर रोक जारी रहेगी सुप्रीम कोर्ट ने फिल्म के निर्माता की अर्जी को खारिज कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट फिल्म के निर्माता की उस अर्जी पर सुनवाई कर रहा थी जिसमें चुनाव आयोग ने फिल्म की रिलीज पर मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट लागू रहने तक रोक लगाने की बात कही थी। सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग को कहा था कि फिल्म को देखकर नये सिरे से निर्णय ले। पैनल ने फिल्म देखी और एक बार फिर दोहराया कि 19 फरवरी को होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए मतदान तक फिल्म की रिलीज पर रोक लगाई जानी चाहिए।

प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अगुवाई वाली पीठ ने कहा कि वह बायोपिक के निर्माताओं द्वारा दायर याचिका की सुनवाई नहीं करना चाहती। याचिका में ईसी के आदेश को चुनौती दी गई है। न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता और न्यायमूर्ति संजीव खन्ना भी पीठ में शामिल हैं। पीठ ने कहा, ‘अब इसमें क्या बचा है?’

निर्माताओं की ओर से पेश हुए वकील ने पीठ से कहा कि ईसी का आदेश केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड द्वारा फिल्म को दी गई मंजूरी के विपरीत है। पीठ ने कहा, ‘मामला यह है कि क्या फिल्म इस समय दिखाई जा सकती है। निर्वाचन आयोग ने फैसला कर लिया है। हम इसकी सुनवाई नहीं करना चाहते।’

 सुप्रीम कोर्ट को सौंपी गई निर्वाचन आयोग की रिपोर्ट से वाकिफ एक सूत्र ने इस बात की जानकारी दी थी कि जिन अधिकारियों ने यह फिल्म देखी है, उनका मानना है कि अगर चुनाव के दौरान इस फिल्म को रिलीज किया गया तो एक विशेष राजनीतिक दल को इसका भरपूर लाभ मिलेगा। रिपोर्ट में कहा गया है कि इसके मद्देनजर आयोग का यह फैसला सही है कि 19 मई को लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण की वोटिंग के बाद फिल्म को रिलीज किया जाए। 

मालूम हो कि फिल्म पीएम नरेंद्र मोदी को 11 अप्रैल को रिलीज किया जाना था। लेकिन चुनाव आयोग ने आचार संहिता के उल्लंघन को लेकर हुए फिल्म की रिलीज पर रोक लगा दी थी. ये फैसला मेकर्स के लिए निराशाजनक था। क्योंकि इससे पहले पीएम मोदी बायोपिक की रिलीज तीन बार बदली जा चुकी थी। आपको बता दें कि चुनाव के दौरान फिल्म रिलीज हो इस वजह से फिल्म को महज 39 दिनों में शूट किया गया ।