single-post

PICS - आकाश अंबानी के वेडिंग रिसेप्शन में पहुंची सोनाली बेन्द्रे, पार्टी में पति संग बहुत खुश नजर आईं

March 11, 2019, 4:02 p.m.

आकाश अंबानी के वेडिंग रिसेप्शन में सोनाली बेंद्रे भी पहुंची। सोनाली पति गोल्डी बहल के साथ आकाश और श्लोका की रिसेप्शन पार्टी में पहुंची। रिसेप्शन के लिए सोनाली ने मरुन कलर का ट्रेडिशनल वेयर पहना। सोनाली इस मौके पर काफी खूबसूरत नजर आ रही थी। सोनाली अपने ड्रेस की वजह से तो खूबसूरत दिख ही रही थी उनकी मुस्कुराहट ने भी खूबसूरती में चार चांद लगा दिया। 

 सोनाली ने वेडिंग रिसेप्शन के लिए अबु जानी और संदीप खोसला की डिजाइन की हुई ड्रेस पहनी थी। गोल्डन और मरून कलर का सूट पैंट उनपर काफी फब रहा था। डायमंड जुलरी और लाइट मेकअप में वो बहुत प्यारी दिख रही थीं। 

पार्टी के लिए रवाना होने से पहले भी सोनाली ने सोशल मीडिया पर तस्वीरें शेयर की। हबी गोल्डी बहल के साथ उन्होंने पिक्चर्स क्लिक करवाई। 

भले ही सोनाली ने कैंसर जैसी बीमारी को झेला हो लेकिन उनके चेहरे पर आत्मविश्वास हमेशा नजर आता है। 

 

हाल ही में सोनाली ने एक इंटरव्यू में इसी से जुड़ा किस्सा शेयर किया है। सोनाली ने बताया है कि कैसर के वक्त उनके सिर्फ 30 प्रतिशत बचने के चांसेस थे। 

सोनाली ने इंटरव्यू में कहा कि, मैं न्यूयॉर्क नहीं जाना चाहती थीं। लेकिन मेरे पति ने मेरी बात नहीं मानी और पूरे रास्ते फ्लाइट में उनसे लड़ती रही, मैंने कहा ऐसा क्यों कर रहे हो? मैंने कहा भारत में भी अच्छे डॉक्टर्स हैं, फिर मुझे वहां क्यों ले जा रहे हो। मेरा घर ही मेरा जीवन है, लेकिन तीन दिन बाद ही हमने सामान पैक किया और न्यूयॉर्क के लिए निकल पड़े, मुझे नहीं पता था कि सब क्या हो रहा है, मेरे लाख मना करने के बाद भी वह मुझे इलाज के लिए विदेश ले गए।' अगले दिन हम न्यूयॉर्क पहुंचे और फिर डॉक्टर के पास गए, डॉक्टर ने सबकुछ देखा और मैंने अपनी टेस्ट रिपोर्ट उन्हें दिखाई, मेरे टेस्ट देखने के बाद डॉक्टर ने कहा कि कैंसर की चौथा स्टेज है और 30 प्रतिशत ही बचने की संभावना है, मुझे बहुत दुख हुआ। 

इसके साथ ही सोनाली ने कहा कि, मैंने उस वक्त अपने पति को देखा और उनसे कही वो सारी बातें याद आ गई, फिर मैंने गोल्डी का शुक्रिया अदा किया, यह जानने के बाद हमारे पास समय कम था और मैं कैंसर की चौथी स्टेज पर हूं ये भी भारत में किसी डॉक्टर ने नहीं बताया था, लेकिन इसके बाद गोल्डी ने इसके बारे में पढ़ना शुरू कर इलाज की तरफ ध्यान दिया।