पूर्व एसीपी वेदप्रकाश का खुलासा, श्रीदेवी की मौत में है दाऊद इब्राहिम का हाथ !

1 years ago

बॉलीवुड की आइकोनिक एक्ट्रेस श्रीदेवी पिछले दिनों ही हम सबको छोड़कर जा चुकी है । श्रीदेवी का 24 फरवरी की रात को दुबई के एक होटल में निधन हो गया था। श्रीदेवी के जाने से हर किसी की आंखें नम हुई । श्रीदेवी के जाने के बाद हर कोई उन्हें याद कर रहा है । वहीं श्रीदेवी के हुए अचानक निधन से हर कोई चौंका हुआ है । रिपोर्ट्स में बता गया है कि उनकी मौत बाथटब में डूबने से हुई है । 

लेकिन पिछले दिनों से कई तरह की रिपोर्ट्स आ रही हैं जिनमें अलग अलग तरह से दावा किया जा रहा है । ऐसा दावा किया जा रहा है कि श्रीदेवी की मौत संदिग्ध है। पिछले दिनों ही खबर आई कि, दिल्ली के पूर्व एसीपी वेदभूषण ने भी श्रीदेवी की मौत को संदिग्ध बताते हुए सवाल खड़े किए हैं।वेद भूषण की जांच एजेंसी पुलिस सॉल्यूशन इंडिया का दावा है कि उनकी मौत आक्समिक नहीं है बल्कि इसके पीछे कोई और वजह है । लेकिन अब एक रिपोर्ट की माने तो अब उनका कहना है कि श्रीदेवी की मौत के पीछे अंदरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का हाथ भी हो सकता है । उन्होंने बताया कि दुबई में दाउद की अच्छी पकड़ है । 

वहां के प्रिंस के परिवार के साथ उसके अच्छे रिश्ते हैं । कहा तो ये भी गया है कि वेद भूषण ने दुबई में दाउद के होटल में गुप्त तरीके से एक रात भी गुजारी है । अब वो जल्द ही सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर कर सकते हैं । जिससे दोबारा ये केस खुले । वहीं एक औऱ रिपोर्ट में कहा गया है कि वेद भूषण ने दुबई पुलिस के श्रीदेवी के खून के सैंपल औऱ उनके फेंफड़ो में कितना पानी भरा था । ये सारी रिपोर्ट्स मांगी तो दुबई पुलिस ने ये देने से इंकार कर दिया है । उन्होंने केवल एक पोस्टमार्टम की कॉपी दी । 

पूर्व एसीपी वेद भूषण का कहना है कि इस केस की जांच बीमा राशि को ध्यान में रखकर करना चाहिए था। श्रीदेवी की मौत से फायदा किसको हो सकता है? अगर श्रीदेवी की मौत हो जाती है तो उनकी प्रॉपर्टी किसे मिलेगी? मौत के बाद इंश्योरेंस कौन क्लेम करेगा? पुलिस ने आखिर इस एंगल को लेकर जांच क्यों नहीं की?' गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले फिल्ममेकर सुनील सिंह की ओर से सुप्रीम कोर्ट में कहा गया था कि ओमान में श्रीदेवी के नाम पर 240 करोड़ का बीमा हुआ था और उसके क्लेम के लिए उनकी मौत दुबई में होनी जरूरी थी। 

 वेद भूषण ने दावा किया कि श्रीदेवी की मौत के बाद होटल जुमेराह एमिरेट्स ने फ्रंट स्टाफ को बदल दिया है और जो नया स्टाफ आया है उसे इस मामले में चुप रहने को कहा है। स्टाफ को यह निर्देश भी है कि जिस रूम में श्रीदेवी की मौत हुई वह किसी को नहीं देना है। फिलहाल जो भी हो अब उन्होंने इस मामले में दाउद की बात कही है । देखते हैं कि आखिर क्या होता है ।