PICS- आमिर खान ने शेयर की मां के साथ बचपन की तस्वीर, इस अंदाज में कहा हैप्पी मदर्स डे

2 weeks ago

बॉलीवुड के मिस्टर परफेक्टनिस्ट आमिर खान ने मदर्स डे पर बचपन की कई तस्वीरें शेयर की है। आमिर 54 साल के हो गए हैं लेकिन अपनी मां के बहुत करीब हैं। 

आमिर की मां उनके साथ ही रहती हैं। आमिर ने एक तस्वीर शेयर की है जिसमे वो अपनी मां के साथ बैठे हैं। 

 14 मार्च 1965 को आमिर खान  का जन्म मुंबई में हुआ। आमिर का परिवार मूल रूप से यूपी का है। 

आमिर ने अपने नाम को साकार किया है। पिता ताहिर हुसैन ने बेटे के जन्म से पहले उसका नाम आमिर सोच लिया था। आमिर का मतलब होता है - हमेशा अगुआई करने वाला। झंडा लेकर चलने वाला। 

 बचपन में आमिर को कॉमिक्स पढ़ने का बहुत शौक था। जेब खर्च के लिए बीस रुपए महीने मिलते थे। सब कॉमिक्स वाले को चले जाते। आमिर को पढाई से ज्यादा कॉमिक्स पढ़ने का जूनून था। कई बार पापा से डांट भी पड़ती थी। 

 

बचपन में आमिर शर्मीले किस्म के रहे हैं। बहुत ज्यादा उनके दोस्त नहीं बनते थे। अड़ोस-पड़ोस के बच्चों से  भी वो ज्यादा घुलते-मिलते नहीं थे।

आमिर के दोस्तों में लड़के कम और लड़कियां ज्यादा थीं। इसका एक कारण यह भी था कि उन्हें घर के पास गर्ल्स स्कूल में पढ़ने के लिए भर्ती कर दिया गया था। इस स्कूल में कक्षा पांचवीं तक लड़के पढ़ सकते थे। 

आमिर खान काफी खूबसूरत बच्चे थे। आमिर ने यादों की बारात फिल्म में बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट काम किया। 

आमिर की पहली पत्नी रीना उनकी बचपन की दोस्त थी। आमिर की लड़कियों से ज्यादा दोस्ती होती थी। आमिर और रीना कभी पड़ोसी थे.साथ में खेला करते थे। आमिर की बिल्डिंग के पास ही रहती थी रीना। वक्त के साथ जब दोनों बड़े हुए तो आमिर रीना के दिल में दस्तक देने लगे। रीना अकसर खेलते हुए आमिर को नजदीक से देखा करती और उनसे ढेरो बातें करती थी। कभी-कभी आमिर उसे अपने घर ले जाते। अपनी मां, चाची, बहन से मिलवाते ।

को एड में पढ़ने के कारण आमिर लड़कियों से बहुत फ्रेंडली रहते थे । उन्हें ऐसी लड़की पसंद थी जिसमें 'सेंस ऑफ ह्यूमर' हो और रीना में वो सब कुछ था। एक दिन रीना एक काकरोच के साथ कोई एक्सपेरीमेंट कर रही थी। आमिर ने पूछा- 'क्या खा रही हो? रीना ने जवाब दिया- एक्लेयर। तुम्हें चाहिए? 

आमिर ने हाँ में सिर हिलाया, तो रीना ने उनके हाथ पर काकरोच रख दिया। यहीं से अ‍ामिर अपना दिल खो बैठे। आमिर और रीना भले ही एक ही सोसायटी में रहते थे....लेकिन दोनों के बीच मजहब की दूरियां थी। दोनों जानते थे कि परिवार वाले कभी शादी के लिए तैयार नहीं होंगे....लिहाजा दोनों ने  गुपचुप रजिस्टर्ड मैरिज कर ली।