अक्षय की सरकारी 'टॉयलेट' !

1 years ago

 

योगी के साथ झाड़ू लगाते हैं, मोदी के साथ मुलाकात करते हैं,खिलाड़ी के इस खेल में मोदी से योगी तक - पूरी की पूरी सरकार लगी है और सरकार क्या. अक्षय के साथ चल रहे पुलिस प्रोटेक्शन को देखकर आप खुद ब खुद कहेंगे  कि अक्षय कुमार एक्टर नहीं, बल्कि मिनिस्टर विद आउट पोर्टफोलियो है। लंदन तक में अक्षय बड़े तामझाम वाला प्रेस कॉन्फ्रेंस करके बता आए हैं...  कि हिंदुस्तान में 54 फीसदी से ज़्यादा लोग खुले में टायलेट करते हैं..अपनी प्रमोशनल प्रेस कॉन्फ्रेंस में अक्षय टॉयलेट कमोड्स वाली सीट पर बैठते हैं और एक्टरों को बिठाते हैं और बात-बात पर ये बताना नहीं चुक रहे हैं कि ये फ़िल्म नहीं, एक मिशन है जो स्वच्छ भारत का इरादा लिए हर घर में टॉयलेट होने की ज़रूरत को उजागर कर रही है।

वैसे सरकार टॉयलेट को ऐसी योजनाएं जाने कब से चला रही है... लेकिन अक्षय कुमार के प्रमोशन तेवरों को देखकर लगता है कि आज़ादी के 70 साल बाद टॉयलेट पर इस फ़िल्म के बाद हिंदुस्तान में कुछ और हो ना हो, टॉयलेट ज़रूर होंगे।नतीजा ये है कि यू.पी में योगी सरकार ने अक्षय कुमार को अपना ब्रैंड अंबैसेडर बना दिया है...और योगी जी ने तो खिलाड़ी कुमार की फ़िल्म प्रमोशन में अपना योगदान करते हुए - उन्हे स्वच्छता की शपथ भी दिला दी...अक्षय की ये टॉयलेट यात्रा - पीएम मोदी के स्वच्छता मिशन का झंडा बुलंद किए पूरे देश का दौरा कर रही है। अक्षय पहले लखनऊ गए - सीएम योगी के साथ एक तीर से तीन निशाने साधे पहले यू.पी के ब्रैंड एंबैसेडर बने  योगी जी से अपनी - पूरे यू.पी में टैक्स फ्री करवाई और जमकर फ़िल्म का प्रमोशन कर दिया और उसके बाद - आगरा पहुंच गए ताजमहल के बैकग्राउंड में अपने फ़िल्म को प्रमोट करने में जुटे रहे.... वहां भूमि के साथ अपनी फ़िल्म टॉयलेट एक प्रेम कथा का प्रचार करने लगे।

लेकिन अक्षय के जुगाड़ को गौर से देखिएगा..तो हैरान रह जाइएगा...आमतौर पर जब भी कोई स्टार - फ़िल्म को प्रमोट करता है..तो उसके साथ प्राइवेट सिक्योरिटी यानि बाउंसर्स नज़र आते हैं... जो उसे भीड़ से बचाते हैं... लेकिन अक्षय की सिक्योरिटी यहां पूरी-पूरी युपी पुलिस जुटी रही.कमाल है ना भाई खिलाड़ी ने सरकारी खेल ही ऐसा खेला हैजहां पल्ले से कुछ खर्च नहीं करना वो कहते हैं ना पिक्चर सरकारी और सरकार हमारी  - बिल्कुल वैसा ही चल रहा है। इसके बाद अक्षय दिल्ली पहुंच गए वहां स्वच्छ भारत के इवेंट में लोगों को स्वच्छता का ज्ञान देने लगें और लोग सुनने भी लगें भई क्या करें जो टॉयलेट देश के घर-घर में सत्तर साल से नहीं पहुंचे हैं अक्षय अपनी 2 घंटे की फ़िल्म से पहुंचाने का भरोसा दिला रहे हैंऔर तो और अक्षय मोदी जी के करीबी हैं योगी जी के चहेते हैं तो सुनना पड़ेगा।

 

Related Posts