single-post

गब्बर के प्यार में पागल वो हीरोइन अब तक कुंवारी है ! अमजद की मौत के बाद इंडिया छोड़ दी !

Nov. 12, 2018, 12:40 a.m.

12 नवंबर को बॉलीवुड के गब्बर अमजद खान का जन्मदिन होता है। अमजद खान का जन्म 1940 में क्वेटा में हुआ था। बॉलीवुड में उन्होंने यूं तो सैकड़ों फिल्में की लेकिन सबसे ज्यादा उन्हें याद किया जाता है फिल्म शोले में गब्बर के रोल के लिए। अमजद खान से बॉलीवुड की एक एक्ट्रेस बहुत प्यार करती थी। उनका नाम कल्पना अय्यर है। 

जब भी कल्पना अय्यर की बात होती है तो यकायक उन पर फिल्माए गए गाने जेहन में आ जाते हैं। 'कल्पना अय्यर एक ऐसी एक्ट्रेस के तौर पर उभरीं जिन्होंने फिल्मों में आइटम नंबर्स को एक नई पहचान दी। 80 के दशक में वो कई फिल्मों में नजर आई। 'कोई यहां नाचे नाचे' जैसे कई गाने कल्पना अय्यर की याद दिलाते हैं। 1995 मेंआई फिल्म राजा हिंदुस्तानी परदेसी-परदेसी गाने में वो दिखी थीं।

कल्पना का अफेयर बॉलीवुड के फेमस विलेन अमजद खान के साथ था। इनका रिश्ता अमजद खान की डेथ तक बरकरार रहा। कहा जाता है कि अमजद की मौत के बाद कल्पना ने शादी न करने का फैसला लिया और 63 साल की उम्र में भी वे अनमैरिड हैं।

एक इंटरव्यू में कल्पना से जब शादी के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा था, "मैंने शादी क्यों नहीं की? ऐसे कई सवाल हैं, जिनका जवाब मैं नहीं दे सकती।शायद मुझमें शादी करने की हिम्मत नहीं थी या फिर मैं शादी के लिए बनी ही नहीं थी। रिश्ते बनाना बहुत तकलीफदायक होता है। काश मैंने शादी की होती या फिर कम से कम मेरा कोई बच्चा होता।"

70's में मॉडलिंग की शुरुआत करने वाली कल्पना 1978 में मिस इंडिया कॉन्टेस्ट की फर्स्ट रनरअप रहीं। इसके बाद उन्होंने मिस वर्ल्ड पेजेंट में इंडिया को रिप्रेजेंट किया और टॉप 15 सेमी फाइनलिस्ट में जगह बनाई।

इसी दौरान उन्हें राजश्री प्रोड्क्शन की फिल्म 'मनोकामना' का ऑफर मिला, जिसमें उन्हें हीरो की लव इंट्रेस्ट का रोल निभाना था। इस किरदार के लिए उन्हें वेस्टर्न लुक दिया गया, जिसे काफी पसंद किया गया।

1999 में राजश्री प्रोड्क्शन की फिल्म 'हम साथ साथ हैं' में काम करने के बाद कल्पना दुबई में सेटल हो गईं। वे वहां रेस्टोरेंट चलाती हैं। कुछ साल पहले एक इंटरव्यू में कल्पना ने दुबई शिफ्ट होने की वजह बताई थी। उन्होंने कहा था, "कुछ तकलीफों और परेशानियों के चलते मैं दुबई शिफ्ट हुई। पर्सनली मेरी जिंदगी में कुछ ऐसी चीजें हुईं, जिनके कारण मैं बुरी तरह से टूट गई थी और इस वजह से मेरी फैमिली को भी काफी तकलीफ हो रही थी। मुझे लगने लगा था कि मैं कुछ नहीं कर पाऊंगी। तभी राजन सिप्पी और उनकी वाइफ ने मुझे दुबई में आने का मौका दिया और काम दिया। इस तरह मैं दुबई में राजन के रेस्टोरेंट 'द मुग़ल रूम' में होस्टेस बन गई। बाद में मुझे एंबेसेडर होटल के मालिक ने अपने यहां नौकरी दे दी।"

कल्पना पिछले 19 सालों से दुबई में हैं। वो अपने काम से खुश है। वहां रेस्टोरेंट चलाती हैं लेकिन बॉलीवुड अब भी उनके दिल में बसता है। कल्पना अब काफी बदल चुकी है। बाल सफेद हो चुके हैं ।