single-post

चुनाव के नतीजों से पहले हेमा मालिनी को लगता था डर, अब मौका मिलेगा तो बनना चाहेंगी मंत्री

May 25, 2019, 5:27 p.m.

बॉलीवुड एक्ट्रेस हेमा मालिनी भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर उत्तर प्रदेश की मथुरा सीट से चुनावी समर में उतरी थीं। हेमा मालिनी मथुरा से चुनाव जीत गई हैं। हेमा मालिनी दूसरी बार यूपी की मथुरा सीट से लड़ रही थीं। हेमा मालिनी ने कयास लगाया था कि शायद इस बार जनता उनका साथ नहीं देगी, लेकिन मामला इसके ठीक उलट हो गया और उन्होंने भारी बहुमत से जीत हासिल की है। आपको बता दें कि हेमा की टक्कर कुंवर नरेंद्र सिंह से थी। 

एक इंटरव्यू में हेमा मालिनी ने कहा- 'जीत का तो पूरा विश्वास था, लेकिन जनता इतनी बड़ी जीत दिलाएगी इसको लेकर संदेह था। गठबंधन को लेकर सभी बोल रहे थे कि इस बार मुश्किल होगा, तो मुझे डर लग रहा था। लेकिन खुशी है कि लोगों ने मुझे दोबारा सांसद चुना है। मुझपर विश्वास जताया तो मेरी भी उनके प्रति जिम्मेदारी बनती है।' जब उनसे पूछा गया कि दोबारा सांसद बनने के बाद मोदी मंत्रिमंडल में जगह मिलेगी? तो इस सवाल के जवाब में पहले तो हेमा मालिनी मुस्कुराईं फिर बोलीं- देखेंगे अगर ऑफर आया तो। भगवान की इच्छा अगर ऐसी है तो जरूर मंत्री बनेंगे। ''

आपको बता दें कि हेमा मालिनी ने साल 2014 में राजनीत‍ि में कदम रखा था। हेमा मालिनी ने अपने संसदीय क्षेत्र मथुरा में जमकर चुनाव प्रचार किया था। उन्होंने ने चुनाव के प्रचार के लिए काफी मेहनत किया था। उनके साथ ही पति धर्मेंद्र भी उनके लिए प्रचार करने पहुंचे थे। हेमा मालिनी का पूरा फोकस राजनीति पर है। उन्होंने बॉलीवुड से दूरी बनाई हुई है। 

आपको बता दें कि 16 अक्टूबर 1948 को तमिलनाडु के अम्मानकुडी में हेमा मालिनी का जन्म हुआ था। बॉलीवुड में कई हसीन अभिनेत्रियां आईं और गईं, लेकिन कोई भी आजतक 'ड्रीम गर्ल' की जगह नहीं ले सकीं। हेमा ने महज 16 साल की उम्र में अपना करियर शुरू किया था। 

करियर के शुरुआती दौर में ही डायरेक्टर श्रीधर ने हेमा मालिनी को ये कहकर रिजेक्ट कर दिया था कि उनके चेहरे में किसी भी तरह की स्टार अपील नहीं है। हेमा मालिनी ने अपने एक्टिंग करि‍यर की शुरुआत तमिल फिल्म से की थी। बॉलीवुड में उनकी एंट्री फिल्म सपनों के सौदागर से हुई। 70 और 80 के दशक में सुपर स्टार रहीं हेमा मालिनी। सैकड़ों हिट फिल्में उनके नाम हैं।