बर्थडे स्पेशल- बचपन में अपने बेटे तैमूर की तरह ही दिखते थे सैफ, देखिए तस्वीरें

1 years ago

बॉलीवुड के नवाब सैफ अली खान को कौन नहीं जानता है। सैफ आज बॉलीवुड में एक सक्सेसफुल एक्टर की लिस्ट में आते हैं। सैफ ने बॉलीवुड में एक ऐसी पारी खेली जो खूब चर्चें में रही। शादी से लेकर फिल्मों तक हर जगह खबरों में रहे है। सैफ नवाब खानदान से ताल्लुक रखते हैं। सैफ का जन्म दिल्ली में 16 अगस्त 1970 को हुआ था। सैफ के बचपन का नाम ‘साजिद अली खान’ था, जिसको उन्होंने फिल्मों में आने के बाद बदल लिया। सैफ एक स्टार किड रहे हैं। सैफ ने नवाबों के घर के जन्म लिया। सैफ की मां शर्मिला टैगोर बॉलीवुड की सुपरहिट एक्ट्रेस रही है।

साल 1952 से 1971 तक उन्होंने बॉलीवुड की कई हिट फिल्मों में काम किया। सैफ के पिता नवाब मंसूर अली खान पटौदी भारतीय क्रिकेट टीम के मशहूर खिलाड़ी रह चुके हैं। 22 सितंबर 2011 को सैफ के पिता मंसूल अली खान का फेफड़ो में इंफेक्शन होने की वजह से निधन हो गया । अपने पिता के देहांत से एक साल पहले 2010 में सैफ को पटौदी परिवार के 10वें नवाब के रूप में घोषित किया गया। सैफ अली खान की दो बहनें साब अली खान और सोहा अली खान हैं।

सोहा भी बॉलीवुड की जानी मानी एक्ट्रेस हैं, जिन्होने 2015 में एक्टर कुणाल खेमू से शादी करली। तो वहीं, सब बॉलीवुड और लाइमलाइट से काफी दूर रहती है। सैफ ने अपनी स्कूलिंग हिमाचल प्रदेश के सनावर शहर के लॉरेंस स्कूल से की। जब सैफ 9 साल के थे उस समय वो अपने आगे की पढ़ाई के लिए इंग्लैंड के हर्टफोर्डशायर शहर चले गए और वहां से लॉकर्स पार्क स्कूल से अपनी पढ़ाई कंप्लीट की। इसके बाद सैफ ने विनचेस्टर कॉलेज से और ऑक्सफोर्ड कॉलेज से अपनी डिग्री ली। सैफ का बचपन बिल्कुल ठाठ-बाट से गुजरा । क्योंकि सैफ घर के अकेले चश्मों चिराग थे।

सैफ जब बड़े हुए तो उन्होंने फिल्मों में आने का सोचा। सैफ जब अपनी पढ़ाई कंप्लीट करके इंडिया वापस आए। तो उन्होंने दो महीने तक एड एजेन्सियों के लिए काम किया। इसी दौरान अपने एक दोस्त के कहने पर सैफ ने‘ग्वालियर शूटिंग’ नाम के कपड़े ब्रांड के लिए एड भी किया। हालांकि सैफ का इस एड को करने का मन नहीं था।

इसी एड की शूटिंग के दौरान सैफ की मुलाकात फिल्ममेकर आनंद महेंद्रो से हुई और उन्होंने सैफ को एक फिल्म में लीड रोल का ऑफर दे दिया, लेकिन इस फिल्म की शूटिंग किसी वजह से शुरू ही नहीं हो पाई। इसके बाद सैफ को 1991 में फिल्म ‘बेखुदी’ में लीड रोल का ऑफर मिला। लेकिन अफसोस ये फिल्म भी सैफ के हाथ से निकल गई। फिल्म की फर्स्ट शूटिंग शेड्यूल के बाद ही सैफ को रिप्लेस कर दिया गया और एक्टर कमल सदाना को उनकी जगह ले लिया गया।

इस बात से सैफ खफा हुए थे। बार बार सैफ का करियर शुरू होते होते रह जाता। इसी फिल्म की शूटिंग के दौरान सैफ की मुलाकात अमृता सिंह से हुई। धीरे धीरे अमृता और सैफ की नजदीकियां बढ़ने लगी और उन्होंने अक्टूबर 1991 में ही उनसे शादी कर ली। परसनल लाइफ में सैफ खुश थे लेकिन प्रोफेशनल लाइफ में सैफ को परेशानी आ रही थी कि आखिर कैसे बॉलीवु़ड में एंट्री मारी जाए फिर 1993 में बनी फिल्म ‘परंपरा’ से सैफ ने बॉलीवुड में डेब्यू किया। लेकिन ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर फ्लॉप हुई । इसी साल सैफ ने अपनी अगली फिल्म ‘आशिक आवारा’ में बॉलीवुड एक्ट्रेस ममता कुलकर्णी से साथ स्क्रीन शेयर की।

 ये फिल्म भी एवरेज रही लेकिन इस फिल्म ने सैफ को बेस्ट मेल डेब्यू का पहला फिल्मफेयर अवॉर्ड जरूर मिल गया। इसके बाद सैफ ने 1994 में ‘ये दिल्लगी’ और ‘मैं खिलाड़ी तू अनाड़ी’ में काम किया। ये फिल्में बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट हुई। इन दोनों ही फिल्मों में वो अक्षय कुमार के साथ नजर आए। इस फिल्म के लिए सैफ को पहली बार बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर के फिल्मफेयर अवॉर्ड के लिए नोमिनेट किया गया। इसके बाद तो सैफ को बॉलीवुड ने भी एक्सेप्ट कर लिया। और धीरे धीरे उनकी गाड़ी चल पड़ी। लेकिन इस दौरान सैफ का खराब टाइम भी आया ।

1995 और 1998 का दौर सैफ के सबसे खराब रहा। क्योंकि इस साल सैफ की कुल 9 फिल्में ‘सुरक्षा’ ‘एक था राजा’,‘बंबई का बाबू’,‘तू चोर मैं सिपाही’, ‘दिल तेरा दीवाना’,‘हमेशा’,‘उड़ान’,कीमत,  और ‘हमसे बढ़कर कौन’ रिलीज हुई। ये सारी ही फिल्में बॉक्स ऑफिस पर फ्लॉप साबित हुईं। इन फिल्मों ने सैफ का करियर अनसैफ कर दिया। लेकिन वो कहते हैं कि अच्छा वक्त भी आता है। 1999 सैफ के लिए लकी रहा। इस साल सैफ ने बॉक्स ऑफिस में चार बेहतरीन फिल्मों से अपना करियर अच्छा कर लिया। इस साल सैफ ने‘ये है मुंबई मेरी जान’,‘कच्चे धागे’, ‘आरजू’ और ‘हम साथ साथ है’ जैसी ब्लॉकबस्टर फिल्मों में काम किया।

वहीं प्रोफेशनल लाइफ के साथ सैफ परसनल लाइफ में भी खबरें बना रहे थे। 2004 में अमृता ने सैफ से तलाक ले लिया। कहा जाता है सैफ और अमृता सिंह का तलाक रोजा की वजह से ही  हुआ था। वहीं 2003 में बनी फिल्म ‘कल हो ना हो’ के लिए सैफ अली खान पहली पसंद नहीं थे।  इस रोल के लिए पहले अभिषेक बच्चन को लिया गया था। कल न हो सैफ के करियर की हिट फिल्मों मे से एक है। 2005 में सैफ ने अपने करियर की सबसे सुपहिट फिल्म हम तुम में काम किया।

रानी मुखर्जी 2006 में सैफ को पहली बार नसीरुद्दीन शाह के साथ हॉलीवुड फिल्म ‘बीईंग साइकस’ में काम करने का मौका मिला। ये फिल्म एक साइकोलॉजिकल ड्रामा पर आधारित थी, जिसमें सैफ ने एक पारसी परिवार के सदस्य के रोल में थे।  2008 में फिल्म ‘रेस’ के बॉक्स ऑफिस में हिट होने के बाद सैफ बॉलीवुड में सबसे ज्यादा फीस लेने वाले एक्टर्स की लिस्ट में शामिल हुए। इसके बाद 2012 में फोर्ब्स मैगजीन ने सैफ को 100 फेमस सेलिब्रिटीज की लिस्ट में शामिल किया, जिनकी इनकम एक महीने में 12 करोड़ से ज्यादा है।

सैफ ने अपने फिल्मी करियर में 61 फिल्मों में काम किया, जिसमें बॉलीवुड और हॉलीवुड की फिल्में ही शामिल हैं। 2010 में सैफ को पद्मश्री से सम्मानित किया गया । 2012 में सैफ ने दूसरी शादी अपने से 10 साल छोटी एक्ट्रेस करीना कपूर से शादी कर ली ।   

Related Posts