फिल्म इंडस्ट्री के ये सितारें मांगते हैं प्रॉफिट शेयर, कमाते है मोटा मुनाफा

10 months ago

बॉलीवुड में कई स्टार्स ऐसे हैं 

जिनके नाम भर से ही फिल्म बिक जाती है । फिल्म रिलीज से पहले ही सैटेलाइट राइट्स के जरिए म्यूजिक राइट्स के जरिए अच्छी कमाई कर लेती है। इतना ही नहीं डिस्ट्रिब्यूटर्स और एकजीबीटर्स भी इन सुपरस्टार्स के नाम पर अच्छे दाम प्रोड्यूसर्स को दे देते हैं... ऐसे में अगर फिल्म चल जाती है तो सबके वारे न्यारे हो जाते हैं लेकिन अगर गलती से फिल्म पिट गई तो बेचारे डिस्ट्रिब्यूटर्स और एक्जीबीटर्स को हो जाता है नुकसान लेकिन उन्हें सितारों को नहीं देना पडता कोई दाम।

वैसे पिछले काफी दिनों से देखने को मिल रहा है कि सलमान, आमिर और शाहरूख अपनी ज्यादातर फिल्मों को को प्रोड्यूस कर रहे हैं ऐसे में फिल्म के मुनाफे में उनकी हिस्सेदारी बतौर प्रोड्यूसर खुद ही बन जाती है लेकिन फीस चार्ज करना उनका हक बनता है इसका सबसे ताजा सबूत है रेस 3। 50 करोड़ के बजट से बनी इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर  करीब 300 करोड़ की कमाई की है। जिसमें से करीब 150 करोड में तो इसके सैटेलाइट राइट्स ही बिके हैं मतलब की कुल कमाई में से अगर सैटेलेइट राइट्स की वेल्यू घटा दी जाए.. तो बॉक्स ऑफिस पर फिल्म ने सिर्फ 150 करोड़ के करीब कमाए हैं। 

बताया जा रहा है कि अपनी फीस और बतौर प्रोड्यूसर अपना प्रोफिट शेयर मिलाकर सलमान करीब 120 करोड़ तो अकेले ही इस फिल्म से कमा गए हैं। ऐसे में  फिल्म के दूसरे डिसट्रिब्यूटर्स और रमेश तौरानी को हो गया मोटा नुकसान। रेस 3 को सलमान ने रमेश तौरानी के साथ मिलकर प्रोड्यूसर किया था लेकिन अगर बात करें आमिर की ठग्स ऑफ हिंदुस्तान की... तो इसे सिर्फ यश राज बैनर ही प्रोड्यूस कर रहा है। बताया जा रहा है कि फिल्म के लिए आमिर ने फीस के साथ साथ प्रोफिट में शेयर भी मांगा है। मतलब की जब भी किसी दूसरे प्रोडक्शन बैनर के तले काम करने की बात हो तो फिल्म के घाटे से इन्हें नुकसान नहीं होता क्योंकि इन्हें मिल जाती है अपनी फीस वहीं अगर फिल्म प्रोफिट में रहती है तो फीस के साथ साथ मुनाफे का हिस्सा पाकर इनकी हो जाती है बड़ी कमाई।

बॉलीवुड के किंग खान शाहरूख खान भी इन दिनों अपनी ज्यादातर फिल्मो को को प्रोड्यूस कर रहे हैं... इसका ताजा सबूत है जीरो.. जिसे शाहरूख आनंद एल राय के साथ मिलकर प्रोड्यूस कर रहे हैं। ऐसे में फिल्म में बतौर प्रोड्यूसर उनका मुनाफे में हिस्सा तो बन ही जाता है... साथ ही एक एक्टर के तौर पर उनकी फीस भी बनती ही है। ठीक ऐसा ही अक्षय कुमार के बारे में भी कहा जाता है.. बताया जाता है कि खिलाड़ी कुमार फिल्म के लिए फीस तो बेहद कम लेते हैं. लेकिन प्रोफिट शेयर के नाम पर अच्छी कमाई कर लेते हैं।य़ जानकारों के मुताबिक आमिर शाहरूख सलमान और अक्षय ऐसे सितारे हैं जो फिल्म के मुनाफे में 50 परसेंट तक का हिस्सा ले लेते हैं।

वैसे देखा जाए तो फिल्म के मुनाफे में हिस्सा लेने से इन सितारों के साथ साथ फिल्म के प्रोड्यूसर और डिस्ट्रीब्यूटर को भी फायदा होता है । इसका सबसे बड़ा सबूत है मुन्नाभाई एमबीबीएस बताया जाता है कि विधु विनोद चोपड़ा ने संजय दत्त और राजकुमार हिरानी को इस फिल्म के लिए सिर्फ 1 रुपए में साइन किया था लेकिन उन्हें फिल्म के प्रोफिट में शेयर ऑफर कर दिया था। इसका सबसे बड़ा फायदा विधु का ये रहा कि फिल्म का बजट कम हो गया वहीं दूसरी तरफ अगर फिल्म ज्यादा कमाई नहीं भी कर पाती तो भी उन्हें संजय और हिरानी को ज्यादा पैसे नहीं देने पड़ते। 

खबरों की मानें तो इन दिनों बॉलीवुड की हसीनाएं भी अब फिल्म के मुनाफे में हिस्सा चाहती हैं। हाल ही में खबरें आई थी कि प्रियंका चोपड़ा ने सोनाली बोस की अगली फिल्म में मुनाफे में हिस्सेदारी मांगी हैय़ प्रियंका से पहले कंगना रनाउत के लिए भी कहा जा रहा था कि वो भी अब फिल्म के मुनाफे में हिस्से की डिमांड कर रही हैं। जानकारों की मानें तो फिल्म के मुनाफे में हिस्सेदारी का ये ट्रेंड बिग बी ने शुरु किया थाय़ एक रिपोर्ट के मुताबिक 1980 के दौर में अमिताभ बच्चन अपनी फिल्म की territories के रूप में पेयमेंट लेते थे।  मतलब की वो कोई भी 11 राज्य चुन लेते थे जहां से आने वाली कमाई प्रोड्यूसर्स के बजाए उनके पास जाती थी। साफ है जब कोई एक्टर अपने स्टारडम के चर्म पर होता है तो प्रोड्यूसर्स को भी उनको मुनाफे में हिस्सेदारी देने में कोई दिक्कत नहीं होती है।

Related Posts