Birthday Spl - जब बोनी कपूर से शादी करने पर श्रीदेवी कहलाईं 'होम ब्रेकर'

1 years ago

श्रीदेवी 80 के दशक में सुपर स्टार रही है । ऐसी शोहरत बहुत कम लोगों को नसीब होती है लेकिन  एक दौर था जब श्रीदेवी की पर्सनल लाइफ विवादों में आ गई थी। श्रीदेवी का रिश्ता जब बोनी कपूर से जुड़ा तो उनकी छवि  होम ब्रेकर की बन गई थी। 11 नवंबर को श्रीदेवी  के पति बोनी कपूर का जन्मदिन होता है ।  श्रीदेवी आज बॉलीवुड के फेमस डायेरक्टर-प्रोड्यूसर की वाइफ हैं और जान्हवी और खुशी की मां हैं।

लेकिन इनकी शादी से लेकर बच्चों तक का सच जानकर आप भी हैरान हो जाएंगे । दरअसल, एक समय ऐसा था जब श्रीदेवी ने बोनी कपूर को राखी बांधी थी। चौंक गए न, चलिए आपको बताते हैं कि ऐसा क्यों किया था उन्होंने ।

बोनी कपूर से पहले श्रीदेवी मिथुन चक्रवर्ती से प्यार करती थीं और उसी दौरान उनकी दोस्ती बोनी कपूर की पत्‍नी मोना कपूर से हुई। श्रीदेवी को इंडस्‍ट्री में स्टैबलिश होने में मदद करते हुए मोना कपूर ने ही उन्‍हें अपने घर में रहने की जगह दी थी। क्योंकि उस समय मिथुन श्रीदेवी को डेट कर रहे थे, इसलिए उन्हें श्रीदेवी का बोनी कपूर के घर रुकना शायद सेफ नहीं लगा होगा।

उस समय मिथुन के कहने पर ही श्रीदेवी ने बोनी कपूर को मुंहबोला भाई माना था और उन्‍हें राखी भी बांधती थीं। श्रीदेवी और बोनी कपूर का रिश्ता भाई बहन का था। वक्त के साथ सब कुछ बदल जाता है उसी तरह श्रीदेवी और बोनी कपूर का रिश्ता भी बदल गया।

मिथुन को जिस बात का पहले ही डर था वो बात सच साबित हो गई। मिथुन को छोड़ श्रीदेवी बोनी कपूर को दिल दे बैठी यही नहीं शादी से पहले ही वो प्रेग्नेंट भी हो गईं, और ये बात पूरी इंडस्ट्री में आग की तरह फैल गई।

इस खबर के बाद मोना कपूर को श्रीदेवी को अपने घर में पनाह देने के अपने फैसले पर बहुत अफसोस हुआ । लोग उन्हे घर तोडने वाली कहने लगे । बोनी कपूर से रिश्ता जोड़ने के बाद श्रीदेवी घरवालों से लेकर बाहर तक लोगों की खूब खरी-खोटी सुननी पड़ी, लोग उन्हें घर तोड़ने वाली कहने लगे, मगर इस बात का उनपर कोई असर नहीं हुआ।

1996 में श्रीदेवी और बोनी कपूर ने एक मंदिर में शादी कर ली । शादी के बाद बोनी अपनी पत्नी मोना और उनके दो बच्चों अर्जुन कपूर और अन्शुला कपूर को छोड कर चले गये । आज वहीं अर्जुन बॉलीवुड का चमकता हुआ सितारा है ,लेकिन उनका रिश्ता अपनी सौतेली मां के साथ बिल्कुल भी अच्छा नहीं है । 

अर्जुन खुद कहते हैं “मेरा रिश्ता उनके के साथ कभी नॉर्मल नहीं हो सकता । वो मेरे लिए सिर्फ मेरे पापा की पत्नी हैं और कुछ नहीं। मैं उनकी इज्जत करता हूं क्योंकि मेरी मां ने मुझे सबको इज्जत देना सिखाया है। मतलब साफ है कि अर्जुन और उनकी सौतेली मां के बीच सिर्फ नाम का ही रिश्ता है। कहा जाता है कि समय सारे घाव भर देता है कुछ ऐसा ही श्रीदेवी के साथ हुआ। उनके रिश्ते अब कपूर परिवार के साथ पहले से बेहतर हो गए हैं। खासकर मोना कपूर की मत्यु के बाद जो कुछ सालों पहले हुई। किसी ने सच ही कहा है ग्लैमर इंडस्ट्री में रिश्तों के पेच बड़े ही उलझे हुए है, यहां कब किसका किससे क्या रिश्ता जुड़ जाएगा पता ही नहीं चलता। श्रीदेवी आज अपनी खुशहाल जिंदगी जी रही हैं और अपने परिवार के साथ बेहद खुश हैं।

Related Posts