घूमर डांस के दौरान रानी पद्मावती की आत्मा मुझसे समा गई थी- दीपिका

1 years ago

 

ऐसी आन, ऐसी शान , ऐसी खूबसूरती देखी है कभी. ये पद्मावती की शान है। 190 करोड़ की पद्मावती का फिल्म का पहला गाना घूमर रिलीज हो चुका है। आपको बता दे ये पहले दिन की शूटिंग थी जिसके लिए दीपिका पादुकोण ने पहली-पहली बार - रानी पद्मिनी का भेष धरा था। पद्मावती के ट्रेलर से जो गुंजाइश बच गई थी इस घूमर गाने ने उसे पूरा कर दिया है और बता दिया है कि पद्मावती - राजपूती आन, बान और शान की कहानी, कुछ इस अंदाज़ में कह रही है जैसे अब तक कभी नहीं कही गई। 

बॉलीवुड की सबसे महंगी फ़िल्म होने के साथ पद्मावती का ये घुमर गाना - सबसे महंगा गाना हैऔर वो इसलिए कि जो सेट आप देख रहे हैं ये राजस्थान के चित्तौड़गढ़ फोर्ट का वो रिप्लिका है जिसे जयपुर में हुए हंगामे के बाद भंसाली की टीम ने मुंबई में 40 दिनों में तैयार किया । रानी पद्मिनी के - जल महल जैसा हुबहू रिप्लिका तैयार करने में जुटे 100 मज़दूरों ने इस सेट को राजस्थानी अंदाज़ के रंग दिया और इसके लिए असली महल की तस्वीरें, उनका टेक्चर और उनके इंटीरियर की हुबहू नकल की गई. । ये इतना बड़ा सेट तैयार किया गया, जिसकी पूरी लाइटिंग करने में 48 घंटे यानि दो दिन लगते यानि शूटिंग के दो दिन पहले से ही सेट पर लाइटिंग का काम शुरु हो गया। 400 दियों को इस घूमर गाने में इस्तेमाल किया गया और एक्ट्राज़ के लिए डिजाइनर कपड़े बनवाए गएं ताकि कैमरे की नज़र में एक भी कमी ना आए। 

Related image

जब तक ये सेट तैयार होता रहा, तब तक राजस्थान के किशनगढ़ से छरी डांसर के ग्रुप्स, जो आग के साथ डांस करने में माहिर होते हैं... उन्हे मुंबई बुलाया गया। जयपुर के तेहरताली म्यूज़िशिन्स को मुंबई बुलाया गया...ताकि इस गाने को सटीक राजस्थानी राजपुताना अंदाज़ दिया जा सके। पूरे डेढ़ महीने तक इस घूमर गाने के लिए दीपिका की ट्रेनिंग कराई गई..और इसमें भी इस बात का खास ख़्याल रखा गया कि गाने के हर मूव, फुट वर्क को बिल्कुल राजस्थान के फोक डांस घूमर ऑर्टिस्ट के मुताबिक रखा जाए। घूमर का अंदाज़ देखकर हर किसी की आंख़ें खुली की खुली रह जाए.इसके लिए गाने में दो कोरियोग्रॉफर रखे गए..। डांस डायरेक्टर क्रूति महेश मिद्या ने इस गाने को खूबसूरत से खूबसूरत बनाने के लिए कैमरे की नज़र से कोरियोग्राफ़ी की.. तो राजस्थानी राजघराने से ताल्कुल रखने वाली - ज्योति डी तोमार ने इसमें घूमर की बारीकियां डालीं ताकि पैरों की चाल से लेकर दीपिका के घेरों तक सब कुछ बिल्कुल परफेक्ट हो। 

Image result for padmavati ghoomar

इस गाने में दीपिका पादुकोण ने पूरे 66 घेरे लिए हैं.और इन भारी-भरकम लंहगे में घेरों में घुमने वाले इस डांस फॉर्म को घूमर कहते हैं। आपको ये भी बताते चलें कि ये घुमर सॉन्ग ही नहीं... बल्कि पद्मावती में रानी पद्मिनी उर्फ़ दीपिका का इंट्रोडक्शन सीन है... जिसमें वो राजा रवल सिंह के शादी के बाद - पहली बार चित्तौड़ गढ़ आती है... और रिवाज़ के मुताबिक घुमर डांस करती हैं। इस घूमर सॉन्ग दुनिया के सामने आता उससे पहले ही दीपिका ने एक ट्विट करके बता दिया कि ये उनकी ज़िंदगी का सबसे मुश्किल, लेकिन फुल फीलिंग डांस नंबर है. । इससे पहले एक इंटरव्यू में दीपिका ने कहा कि घुमर सॉन्ग को शूट करने ही वो पहली बार - पद्मावती के सेट पर आईं... और इस गाने से पहले वो बहुत नर्वस थी.लेकिन फिर उन्हे ऐसा लगा जैसे रानी पद्मिनी की आत्मा उनके अंदर आ गई ये अहसास वो कभी नहीं भूलेंगी। 

दीपिका के इस घुमर वाले इस सॉन्ग के लिए और रानी पद्मिनी की पहली झलक के लिए दिल्ली के डिज़ाइनर रिंपल और हरमीत ने पूरे 30 किलो का लहंगा तैयार किया... लाल, हरे और पीले रंग के कॉम्बीनेशन से बनाए गए इस लंहगे का वज़न - इसके ज़री के काम के चलते इनता भारी हो गया कि इसे पहनकर - घूमर के लिए घूमना भी एक चुनौती थी... लेकिन पद्मावती की कहानी के लिए - ये भी किया गया. उपर से दीपिका के हार, मानटीके, कंगन और बाकी ज्वैलेरीज़ का वज़न 20 किलो था... खालिस सोने से बने इन गहनों के साथ दीपिका को अपने करियर के सबसे मुश्किल डांस को परफॉर्म करना था।

Image result for padmavati ghoomar

हर टेक को परफेक्ट बनाने के लिए मुंबई के महबूब स्टूडियो में लगे इस सेट पर  लगातार 11 दिनों तक इस घूमर गाने की शूटिंग चलती रही... । इन 11 दिनों तक 30 किलो के लहंगे और 20 किलो की ज्वैलेरी पहनकर परफेक्ट टेक देते देते - दीपिका की गर्दन में ऐसी मोच आई कि उन्हे हफ्ते भर तक उसका इलाज करवाना पड़ा. लेकिन इतने दर्द, इतनी मेहनत के बाद बॉलीवुड के इतिहास का सबसे महंगा, सबसे शानदार - घूमर गाना तैयार होकर अब जब दुनिया के सामने आया है...तो पद्मावती की शान देखकर - दुनिया हैरान है।  

Related Posts