FTII विवाद: सरकार ने कर लिया था गजेंद्र चौहान को हटाने का फैसला

3 years ago

नई दिल्ली(7th September): पुणे के FTII के अध्यक्ष गजेंद्र चौहान को सरकार ने हटाने का फैसला कर लिया था लेकिन कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के मामले में पड़ने की वजह से सरकार इस मामले में अड़ गई है।

इस बीच पुणे में छात्रों का धरना 87 दिन से जारी है अब इस इंस्टीट्यूट के एक टीचर ने भूख हड़ताल शुरू कर दी है।

अंग्रेजी अखबार हिंदुस्तान टाइम्स ने दावा किया है कि गजेंद्र चौहान को करीब दो महीने पहले ही सरकार ने किनारे करने का इरादा बना लिया था। मशहूर फिल्मकार राजू हिरानी को संस्थान की जिम्मेदारी देने का फैसला भी हो गया था।

लेकिन, राहुल गांधी के पुणे दौरे के बाद जब ये आंदोलन और तेज हो गया तो सरकार ने भी अपना रुख और कड़ा कर लिया। पुणे एफटीआईआई का विवाद खत्म करने के लिए सुप्रीम कोर्ट से दखल देने की मांग की गई है, इस याचिका पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई है।

बताया जा रहा है कि पुणे के आंदोलनकारी छात्रों का जत्था दिल्ली आया तो सूचना प्रसारण मंत्रालय ने उन्हें ये जानकारी दी थी। सूत्रों के मुताबिक छात्र भी इस पर राजी थे। लेकिन, उसी दौरान कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पुणे एफटीआईआई के दौरे पर गए।

Related Posts