गुलजार पर फिदा थी बॉलीवुड की वो नामचीन एक्ट्रेस !

1 years ago

 

आज है मशहूर डायरेक्टर और गीतकार गुलजार का जन्मदिन। गुलजार के गीतों की तो बहुत बात होती है लेकिन गुलजार और मीना की कहानी भी उनकी जिंदगी का एक अहम हिस्सा रहा है। मां की मौत के बाद गुलजार बहुत दुखी रहा करते थे। अपनी ज़िंदगी के दर्द साथ लिए चलते गुलज़ार को एक हमदर्द - मीना कुमारी के तौर पर मिला।  गुलजार । गुलजार  मीना कुमारी के शायराना अंदाज और अदाकारी पर फिदा थे, तो मीना कुमारी नौजवान शायर के अंदाज-ए-बयां पर.फुरसत के लम्हों में दोनों शेर-ओ-शायरी पर बातें करतें.और दुनिया इसे मुहब्बत मानती। 

इस आग को और हवा मिली, जब 1963 में गुलजार साहब ने अपनी पहली किताब को मीना कुमारी के नाम कर दिया.और मौत से पहले मीना कुमारी ने तो अपनी तमाम डायरियां गुलजार के नाम वसीयत कर दीं। ये दोस्ती इतनी गहरी रही कि मीना कुमारी की सेहत के लिए गुलज़ार रोज़े रखते रहें.और मीना कुमारी ने बीमारी के बाद भी गुलज़ार की पहली फ़िल्म - मेरे अपने की शूटिंग पूरी की। इस फ़िल्म ने उन्हे बतौर डायरेक्टर इंडस्ट्री में जमा दिया। 1971 के इसी साल में गुलज़ार को फ़िल्म आनंद के लिए गुलज़ार को बेस्ट डायलॉग के लिए फिल्म फेयर अवॉर्ड मिला। लेकिन गुलजार की फिल्म इंडस्ट्री में पहचान बनी और मीना कुमारी दुनिया से रूखसत हो गईं।   

Related Posts