मोबाइल टॉवर्स के खिलाफ लड़ाई लड़ रही जूही चावला की पेटीशन को सुनेगा सुप्रीम कोर्ट !

4 months ago

जूही चावला लंबे समय मोबाइल के किरण से पैदा होने वाले स्वास्थ्य संबंधी खतरों के खिलाफ कानूनी लड़ाई लड़ रही है। इस मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को कहा कि वह जूही चावला और अन्य लोगों की याचिका पर सुनवाई करेगा। यह याचिका मोबाइल टॉवरों से होने वाले विकिरण से जुड़ी है। अदालत ने मोबाइल टॉवर विकिरण तथा इसी मुद्दे पर लंबे समय से पड़ी दूसरी याचिकाओं को एक साथ सुनेगी।जज रंजन गोगोई, नवीन सिन्हा और के एम जोसेफ की पीठ ने जूही चावला मेहता और दूसरी दायर याचिका को अन्य याचिकाओं के साथ जोड़ दिया है। जूही चावला ने अपनी याचिका में स्वास्थ्य खतरों को कम से कम करने के लिए विकिरण को कम करने के नियमन तय किए जाने की अपील की है।

आपको बता दे कि जूही चावला ने मोबाइल फोन की 5जी तकनीक को लेकर चिंता जताते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को पत्र लिखा था। उन्होंने मोबाइल टॉवर एंटीना तथा वाईफाई हॉटस्पॉट से निकलने वाली इलेक्ट्रोमेग्नेटिक रेडिएशन (ईएमएफ) के कारण सेहत को पहुंचने वाले नुकसान के प्रति चेतावनी दी थी। उनका कहना था कि लोगों की सेहत पर रेडियोफ्रिक्वेंसी के संभावित हानिकारक प्रभावों का विश्लेषण किए बगैर इसे लागू नहीं करना किया जाना चाहिए।