कंगना रनोट की फिल्म मणिकर्णिका में काम करने वाले जूनियर आर्टिस्ट्स को अब तक नहीं मिला मेहनताना !

1 months ago

कंगना रनौत की अपकमिंग फिल्म 'मणिकर्णिका' पिछले कई दिनों से मीडिया पर सुर्खियों में छाई हुई है।

 कंगना रनोट की मच अवेटेड फिल्म मणकर्णिका एक बार फिर विवादों में है। फिल्म के मेकर्स पर फिल्म में काम करने वाले जूनियर आर्टिस्ट के पैसे ना देने का आरोप लगा है। सूत्रों की माने को फिल्म की टीम को जूनियर वर्कर्स के लगभग 1.5 करोड रुपये देने है जिसका वादा तो हर बार किया जाता है लेकिन पेमेंट कोई नहीं कर रहा है। फिल्म में रोज की मेहनताने पर काम करने वाले कई आर्टिस्ट के पैसे फिल्म के मेकर्स ने रोके हुए हैं ।

आपको बता दे फिल्म का पोस्ट प्रोडक्शन वर्क अभी बाकी है.और उसके बाद फिल्म की टीम फिल्म के प्रमोशन में जुटेगी। फिल्म से जुड़े आर्टिस्ट्स कहना है की फिल्म के प्रोड्यसर कमल जैन ने अक्टूबर तक सारा पैसा देने का वादा किया गया था लेकिन अभी तक कोई पेमेंट नहीं हुआ। फेडरेशन ऑफ इंडिया सिने इम्पलॉयज ने भी इस पूरे मामले को लेकर गंभीरता दिखाई है। वकर्स से वादा किया गया है कि जल्द उनके मेहनताने की रकम मिल जाएगी। वर्कर्स ने फिल्म के पोस्ट प्रोडक्शन का काम रुकवाने की कोशिश भी की थी। ]

 लगातार 'मणिकर्णिका' के सेट से बुरी खबर देखने को मिल रही है। पहले सोनू सूद ने इस फिल्म को गुडबाय कहा और उसके बाद स्‍वाति सोमवाल ने फिल्‍म को गुडबाय कह डाला। आपको बता दें कि 'मणिकर्णिका' में स्वाति मराठा सेना के कमांडर सदाशिवराव भाऊ की पत्नी पार्वती के किरदार में नजर आने वाली थीं। सदाशिवराम भाऊ के किरदार को पहले सोनू सूद निभाने वाले थे। लेकिन उनके फिल्म से बाहर होने के बाद यह किरदार जीशान अयूब निभा रहे है। फिल्म के डायरेक्टर कृष ने भी फिल्म को बीच में ही छोड़ दिया था। 

मणिकार्णिका: द क्‍वीन ऑफ झांसी' की कहानी भारत की आजादी की लड़ाई की कहानी है जो कि 1857 में लड़ी गई थी। रानी लक्ष्मीबाई का दमदार किरदार कंगना रनौत निभाने जा रही हैं। ये फिल्म 25 जनवरी 2019 को रिलीज होगी।