single-post

#MeToo पर कंगना ने किया करण जौहर अटैक, कॉफी विद करण शो का बनाया मजाक !

Oct. 15, 2018, 4:06 p.m.

ऐसा लग रहा था कि करण जौहर के साथ कंगना रनोट के सारे गिले शिकवे मिट गए हैं। वो लोग अब दोस्त बन गए हैं लेकिन ऐसा लगता है  कंगना एक बार फिर करण से महासंग्राम करना चाहती हैं तभी तो उन्होंने अब नए सिरे से करण जौहर को टारगेट करना शुरु कर दिया है। इन दिनों बॉलीवुड में #MeToo की आंधी आई हुई है। हर कोई #MeToo मूमेन्ट का सपोर्ट कर रहा है करण जौहर ने इस मुद्दे पर अबतक कुछ नहीं बोला है.और अब कंगना उनसे सवाल कर रही हैं कि आख़िर #MeToo को लेकर करण जौहर की चुप्पी की क्या वजह है । कंगना ने करण के बारे में कहा है, ''करण जौहर जिम और एयरपोर्ट लुक्स पर भी राय देते हैं। इन मुद्दों पर वो 10 बार ट्विट्स करते हैं । #MeToo  के बारे में क्यों नहीं लिख रहे हैं। बॉलीवुड में इतना बड़ा मुद्दा छाया हुआ है और करण जौहर चुप है। कहा हैं वो ?

कंगना ने तो ये तक कह दिया है कि अगर करण जौहर इस मौक़े पर भी चुप हैं तो फिर उन्हें बॉलीवुड का मसीहा कहना ग़लत है। उन्हें इस मौके पर आवाज उठानी चाहिए। कंगना ने सिर्फ मी-टू मूमेन्ट पर करन जौहर की चुप्पी को ही टारगेट नहीं किया है.. बल्कि मैडम ने मिस्टर जौहर के शो कॉफी विद करन के अपकमिंग सीज़न को भी निशाना बनाया है । हम आपको बता दें कि कॉफी विद करन के अपकिंग सीज़न की पहली गेस्ट दीपिका और आलिया हैं..जिसका प्रोमों भी आउट हो चुका है । कंगना को लगता है कि करन जौहर के शो में मर्दों की कैसानोवा फितरत को ग्लोरीफाई किया जाता है और औरतों को बार्बी डॉल की तरह पेश किया जाता है। कंगना ने कहा है कि, मैं शो का प्रोमो देख रही थी। शो में वहीं बकवास बातें है। कौन किसके साथ सो रहा है। कौन किसको डेट रहा है। वहीं लड़कियों को शो में बार्बी डॉल्स की तरह दिखाया जाता है। महिलाओं को शो में ग्लोरीफाइड किया जाता है। 

पिछले साल कंगना सैफ अली ख़ान के साथ करण के शो में गई थीं।  इसी शो में कंगना ने करण पर नेपोटिज़्म और मूवी माफिया होने का इल्ज़ाम लगाया था और फिर उसके बाद दोनों की जंग शुरू हो गई थी। कंगना के इस कमेन्ट से मिस्टर जौहर का मूड इतना ख़राब हुआ था कि उन्होंने कंगना के साथ जंग का ऐलान कर दिया था। करण जौहर ने कंगना के मुक़ाबले ना सिर्फ रितिक रोशन को सपोर्ट किया था। बल्कि उन्होंने कंगना पर विक्टिम कार्ड खेलने का आरोप भी जड़ दिया था