single-post

Birthday Spl - करिश्मा कपूर कैसे चिंकारा शिकार केस से बच गईं ! जानिए वजह

June 25, 2018, 12:20 p.m.

फिल्म हम साथ - साथ है के अमूमन सभी लीड कलाकार सलमान खान के साथ चिंकारा शिकार केस में आरोपी बने लेकिन करिश्मा कपूर का नाम इस केस में नहीं आया। करिश्मा कपूर फिल्म में सैफ अली खान की लव इंटरेस्ट बनी थीं। लेकिन जब सैफ, सलमान, नीलम, सोनाली और तब्बू ब्लैक बक के शिकार के लिए गए, तब वे जोधपुर में नहीं थीं। 

शायद यही वजह है कि करिश्मा उस वक्त इस गैंग का हिस्सा नहीं बन सकीं। दो महीने पहले जब सैफ अली खान जब इस केस से बरी हुए  तो करिश्मा उनसे मिलने खासतौर से पहुंची थी। जाहिर है पिछले 20 साल में करिश्मा को बार-बार ये महसूस हुआ होगा कि अच्छा हुआ वो जोधपुर में नहीं थी और शिकार पर नहीं गईं, नहीं तो सलमान, सैफ, तब्बू, सोनाली और नीलम की तरह उन्हें भी बार - बार अदालत में हाजिरी लगानी पड़ती। 20 सालों तक वो केस में उलझी रहती। खैर सलमान के अलावा इस केस से बाकी लोग बरी हो गए ।  

 कहा जाता है कि  जब सलमान खान और सैफ अली खान  ने हिरण शिकार का प्लान बनाया था तब फिल्म के डायरेक्टर सूरज बड़जात्या ने उन्हें रोकने की कोशिश की थी। फिल्म से जुड़ी कोई एक्ट्रेस हिरण का लाल मांस खाना चाहती थी और इसी वजह सलमान और सैफ ने शिकार की प्लानिंग की थी। फिल्म की बाकी स्टारकास्ट में मोहनीश बहल और महेश ठाकुर भी थे। मोहनीश ने फिल्म में तब्बू के हसबैंड और महेश ठाकुर ने नीलम के हसबैंड का रोल किया था। जब सलमान और सैफ ने दोनों को शिकार के लिए इनवाइट किया तो उन्होंने साथ जाने से इनकार कर दिया और यह फैसला उनके लिए वरदान साबित हुआ। 

वहीं करिश्मा का जोधपुर में ना होना उनके लिए वरदान बना। लेकिन इतना तय है कि अगर वो उस दौरान जोधपुर में होती तो शिकार के लिए जरूर जाती और इस केस में उनका भी नाम होता।