बाइक एक्सीडेंट ने सीरियल 'चिड़ियाघर' के मेंढक की जिंदगी क्या से क्या बना दी !

12 months ago

टीवी सीरियल चिड़िया घर के मेंढक यानी मनीष विश्वकर्मा आपको याद होंगे। मनीष को सीरियल चिड़ियाघर में खूब पसंद किया गया था।  आपको बता दे कि साल 2015 में मनीष का एक्सीडेंट हो गया था। 28 जून 2015 को मनीष बाइक से 'चिड़ियाघर' की शूटिंग के लिए गोरेगांव जा रहे थे। तभी वहां स्थित आरे कॉलोनी में उनका एक्सीडेंट हो गया। इसके बाद उन्हें कोकिलाबेन हॉस्पिटल और फिर सिटी केयर हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। इसके बाद उन्हें ब्रेन हेमरेज हो गया और वे कोमा में चले गए थे। 

22 साल के मनीष अब कोमा में तो नहीं है, लेकिन नॉर्मल लाइफ जीने के लिए आज भी स्ट्रगल कर रहे हैं। परिवार अपनी पूरी जमा पूंजी के साथ कर्ज लेकर लाखों की रकम उनके इलाज में लगा चुका है। उनके परिवार को आर्थिक मदद की जरूरत है, ताकि वे बेटे को पूरी तरह रिकवर कर सकें।

दो साल से उनका इलाज चल रहा था। एक्सीडेंट के बाद वो कोमा में आ गए थे। पिछले दो महीने से वे दवाइयों पर नहीं हैं, बल्कि मेडिटेशन कर रहे है। मनीष के पिता त्रिभुवन विश्वकर्मा के मुताबिक वो उम्मीद खो चुके थे लेकिन हार नहीं मानी। एलोपेथी से लेकर आयुर्वेद तक का इलाज आजमाया। उनकी माने तो मनीष अब बेहतर कंडीशन में हैं। 

त्रिभुवन के मुताबिक अब भी मनीष साफ-साफ नहीं बोल सकते और फिजिकल कंडीशन को बेहतर बनाने के लिए उसका फिजियोथेरेपी ट्रीटमेंट चल रहा है। उन्हें उम्मीद है जल्द ही मनीष पहले से बेहतर हो जाएंगे । मनीष मिडिल क्लास फैमिली से आते हैं। उनके पिता की सिर्फ ब्रेड की दुकान है। 

त्रिभुवन उनके इलाज पर 45 लाख रुपए से ज्यादा खर्च कर चुके हैं। त्रिभुवन ने बताया कि उन्होंने अपनी पूरी सेविंग बेटे के इलाज पर लगा दी। बैंक से लोन लिया, हैवी ब्याज पर रिश्तेदारों से पैसे उधार लिए । इसके अलावा, शिल्पा शिंदे, परेश गणात्रा, CINTAA के मेंबर और दूसरे कुछ लोगों ने भी हमारी आर्थिक मदद की  'चिड़ियाघर' के मेंढक प्रसाद यानी मनीष विश्वकर्मा के परिवार को अब भी मदद की दरकार है।