49 साल के हुए मनोज वाजपेई, बहुत स्ट्रगल कर यहां तक पहुंचे, देखिए परिवार की तस्वीरें

9 months ago

 

मनोज वाजपेयी  हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के मंझे हुए एक्टर्स में से एक हैं। मनोज वाजपेई 49 साल के हो गए हैं। मनोज का जन्म बिहार के छोटे से गांव में 23 अप्रैल, 1969 को एक किसान परिवार में हुआ था। मनोज के पिता एक किसान थे और मां हाऊसवाइफ थीं।  मनोज बाजपेयी पांच भाई बहन थे जिनमें से मनोज दूसरे नंबर पर हैं। मनोज ने अपने जीवन में काफी संघर्ष किये हैं और बिना गॉड फॉदर के आज इंडस्ट्री के जाने माने स्टार हैं ।

एक दफा उनका एक दोस्त दिल्ली आ रहा था। उसने मनोज को भी साथ चलने का आग्रह किया. मनोज के अंदर फिल्मों में काम करने की इतनी इच्छा थी कि उनसे रहा नहीं गया और वो बिना कुछ सोचे समझे उसके साथ सफर के लिए निकल लिए। मनोज बिना टिकट के ही ट्रेन में सफर कर रहे थे ।

मनोज वाजपेयी ने अपनी युवावस्था के दिन बड़ी मुश्किलों से गुजारे. पहले वो दिल्ली विश्वविद्यालय के कॉलेजो में छोटे-मोटे नाटकों में हिस्सा लेते थे इसके अलावा वो नुक्कड़ नाटक भी करते थे।  बहुत कम ही लोग जानते हैं कि मनोज बाजपेयी जब इंडस्ट्री में जगह बनाने के लिए हाथ पैर मार रहे थे तब वो दिल्ली की एक लड़की को डेट कर रहे थे और फिर उस लड़की से शादी कर ली।

मनोज की ये शादी 2 महीना भी नहीं टिकी। मनोज के मुताबिक अपनी पहली पत्नी से शादी के सिर्फ दो महीने बाद ही अलग हो जाने का सबसे बडा़ कारण मनोज का स्ट्रगलिंग पीरियड था जिस वजह से वो अपनी शादीशुदा जिंदगी पर ध्यान ही नहीं दे पा रहे थे। 

फिल्म डायरेक्टर तिगमांशु धूलिया की वजह से मनोज को बैंडेट क्वीन में एक प्रमुख रोल मिला था। तिगमांशु उस समय फिल्म के कास्टिंग डायरेक्टर थे और उन्होंने ही शेखर कपूर से मनोज को कास्ट करने की सलाह दी थी।

फिल्म सत्या में भीकू मात्रे के किरदार से इनके करियर ने उड़ान भरनी शुरू की।  इस फिल्म में अपने शानदार अभिनय से इन्होंने बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर का नेशनल अवॉर्ड अपने नाम किया। 

 

साल 2006 में नेहा ने एक्टर मनोज वाजपेई से शादी कर ली। नेहा और मनोज वाजपेयी की पहली मुलाकात फिल्म 'करीब' के रिलीज के बाद हुई थी।

नेहा की फिल्म करीब और मनोज की फिल्म 'सत्या' एक साथ ही रिलीज हुई थी। कई सालों तक एक दूसरे के प्यार में रहने के बाद मनोज और नेहा ने शादी कर ली। अब ये दोनों एक बेटी के माता-पिता भी हैं। शादी के बाद नेहा ने फिल्मों से दूरी बना ली। 

मनोज बाजपेई की यादगार फिल्में शूल, पिंजर, गैंग्स ऑफ वासेपुर, राजनीति, आरक्षण, बागी 2 और अलीगढ़ हैं ।