एक्ट्रेस मुमताज को भी हुआ था कैंसर लेकिन वो फाइटर की तरह मौत से जंग जीत गईं !

11 months ago

सोनाली बेंद्रे कैंसर की शिकार हुई तो 70 के दशक की एक्ट्रेस मुमताज की भी चर्चा शुरु हो गई। 

कई बरस तक फिल्मों की दुनिया से अलग रही मुमताज को साल 2000 में पता चला उन्हें ब्रेस्ट कैसर हो चुका है। इसके मुश्किल इलाज के दौरान मुमताज बेइंतहा दर्द से गुजरी चेहरे की वो रौनक और रूप की वो रंगत भी जाती रही। कीमो थेरपी की वजह से उनके सिर से बाल उड़ गए। पलके और आईब्रो के बाल भी झड़ गए । लंबा इलाज चला लेकिन आखिरकार कैंसर से वो जंग जीत गई मुमताज । मुमताज उन तमाम कैंसर पीड़ितों के लिए मिसाल हैं। एक फाइटर की तरह वो कैंसर से जंग जीतीं।

कुछ दिन पहले भी मुमताज चर्चा में थीं। मुमताज की मौत की अफवाह सोशल मीडिया पर चल रही थी । बाद में पता चला वो बिल्कुल सही सलामत हैं। मुमताज लंदन में रहती हैं। उनकी बेटी नताशा की शादी एक्टर फरदीन खान से हुई है। 

साल 2008 में उस मुमताज को दुनिया ने आईफा के मंच पर देखा, जब उन्हें लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड से नवाजा जा रहा था। 31 जुलाई 1947 को जन्मी मुमताज अस्करी मूल रूप से अफगानिस्तान की रहने वाली थी। आपको बता दे कि 28 साल की उम्र में मुमताज ने फिल्मों को अलविदा कह दिया। स्टारडम की जिस चकाचौंध को देख इस दुनिया में आई थी मुमताज उसे हमेशा हमेशा के लिए छोड़ दिया। 12 साल बॉलीवुड में रहीं मुमताज इस दरमियान हर मुकाम हासिल कर लिया। शादी और आगे की जिंदगी का खाका मुमताज ने तभी बुन लिया था, जब उनके सितारे बुलंदी पर थे।

1974 में मयूर माधवानी से शादी के बाद मुमताज ने फिल्मों में काम करना छोड़ दिया। हालांकि शादी के बाद हालांकि मुमताज की प्रेम कहानी, आइना और नागिन जैसी फिल्में रिलीज हुईं । इनमें से नागिन तो सुपर- डुपर हिट हुई थी। मुमताज के पास फिल्मों के ऑफर अब भी कम नहीं थे. लेकिन मायानगरी में वापसी का इरादा नहीं किया मुमताज अपनी दो बेटियों और पति के साथ लंदन में बंस गई.लेकिन मुमताज की शख्सियत वैसी आजाद नहीं रह गई।

पति मयूर मधवानी के दूसरी महिलाओं से अफेयर की सुर्खियों के बीच मुमताज बेहद मायूसी हुई। उदास इस बात से, कि जिसके लिए अपना करियार, अपनी बुलंदी की परवाह नहीं की लेकिन वो शख्स भी बेवफा निकला। 90 के दशक में छपे एक इंटरव्यू में मुमताज ने भी माना था कि एक वक्त तो ऐसा आया था जब वो मयूर से तलाक लेने का मन बना चकी थी । 

उदासी के उस दौर में मुमताज ने फिल्मों में वापसी का इरादा किया। 90 के दशक में उन्होंने 'आंधिया' नाम की फिल्म में काम किया था लेकिन वो फिल्म ममताज की उम्मीदों पर खरी नहीं उतरी। तब डेविड धवन जैसे डाइरेक्टर्स ने अगली फिल्म में बेहतर रोल्स का ऑफर किया था, लेकिन मुमताज नहीं रुकीं।

बढ़ती उम्र के साथ फिल्मी पर्दे की वो मुमताज बहुत बदल गईं है। कुछ दिन पहले उनकी एक तस्वीर वॉयरल हुई थी। लंदन की सड़कों पर चहलकदमी करती दिखी थी मुमताज । वक्त के साथ भले ही मुमताज में बहुत बदलाव आया हो लेकिन दर्शकों के जेहन में तो आज भी वहीं खूबसूरत, शोख और चंचल मुमताज की छवि कायम है।