single-post

Oscars 2019: भारतीय फिल्म 'पीरियड.एंड ऑफ सेंटेंस' को मिला ऑस्कर अवार्ड

Feb. 25, 2019, 2:15 p.m.

ऑस्कर 2019 इन दिनों कैलिफॉर्निया में चल रहा है। इस बार 91वें एकेडमी अवॉर्ड्स का आयोजन हो रहा हैं। इस साल भारत की एक शॉर्ट डॉक्यूमेंट्री फिल्म ने भी ऑस्कर अवॉर्ड अपने नाम किया है। ये फिल्म 'पीरियड : द एंड ऑफ सेंटेंस' है। इस डॉक्यूमेंट्री का निर्देशन रायका जेहताबची ने किया है और इसे भारतीय प्रोड्यूसर गुनीत मोंगा की 'सिखिया एंटरटेनमेंट' ने प्रोड्यूस किया है।

ये फिल्म भारत के ग्रामीण क्षेत्र में माहवारी के समय महिलाओं को होने वाली समस्या और पैड की अनुपलब्धता पर बनी है। जिसमें पीरियड्स के मुद्दे को उठाया गया है।  फिल्म की कहानी हापुड़ में स्थित एक गांव की उन महिलाओं के इर्द गिर्द घूमती है जिन्हें पैड्स उपलब्ध नहीं हैं। 

ऐसे में मासिक धर्म के दौरान कई महिलाओं को बीमारियां चपेट में ले लेती हैं जो मौत का कारण भी बनती है। इस 26 मिनट की फिल्म में दिखाया गया है कि पैड न होने के कारण लड़कियां स्कूल नहीं जा पाती हैं। इस स्थिति से गुजरते हुए एक दिन उनके यहां पैड मशीन लगाई जाती है, जिसके बाद महिलाओं को पैड के बारे में पता चलता है। महिलाएं इस बारे में जागरुकता फैलाने के साथ ही खुद भी पैड बनाने का भी फैसला करती हैं।

ALSO READ: विक्की कौशल नजर आएंगे राकेश शर्मा की बायोपिक में

 ईरानी-अमेरिकन फिल्म डायरेक्टर रयाक्ता ने ऑस्कर जीतने पर कहा कि 'उन्हें यकीन नहीं हो रहा है कि पीरियड्स पर बनी फिल्म ने ऑस्कर जीता है। बता दें कि गुनीत मोंगा 'लंच बॉक्स' और 'मसान' जैसी क्रिटिकल अक्लेम फिल्म को भी प्रड्यूस कर चुकी हैं। फिल्म Period. End Of Sentence का ऑस्कर में बेस्ट डॉक्युमेंट्री शॉर्ट कैटिगरी अवॉर्ड के लिए 'ब्लैक शीप', 'एंड गेम', 'लाइफबोट' और 'अ नाइट ऐट दी गार्डन' फिल्मों से मुकाबला था।