पाक सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, पाकिस्तानी चैनलों पर नहीं दिखाई जाएंगी भारतीय फिल्में और धारावाहिक

4 months ago

भारत में पाकिस्तानी आर्टिस्ट्स को बैन कर दिया है। वहीं अब खबर मिल रही है कि पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने प्राइवेट टीवी चैनलों द्वारा भारतीय फिल्मों और टीवी शोज के प्रसारण पर रोक लगा दी है। इस की जानकारी कोर्ट ने मंगवार को दिया गया है। पुलवामा आतंकी हमले के बाद से दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है। इस क्रम में पहले भारत भी पाकिस्तानी कलाकारों द्वारा भारत में काम किए जाने का विरोध कर चुका है और अब पाकिस्तान सुप्रीम कोर्ट ने यह आदेश दिया है।  

गुलजार अहमद की अध्यक्षता वाली शीर्ष न्यायालय की तीन सदस्यीय पीठ ने पाकिस्तानी टीवी चैनलों पर भारतीय कार्यक्रमों के प्रसारण से जुड़े मामले की सुनवाई की। रेडियो पाकिस्तान की खबर के मुताबिक शीर्ष न्यायालय ने भारतीय फिल्मों एवं टीवी कार्यक्रमों का प्रसारण करने से निजी टीवी चैनलों को रोक दिया है। कि अब कोई भी भारत का चैंनल पाकिस्तान में दिखाया नहीं जाएगा। खास बात है कि कि हफ्ते भर पहले ही पाकिस्तान के सूचना एवं प्रसारण मंत्री चौधरी फवाद हुसैन ने कहा था कि पाकिस्तान फिल्म एग्जीबिटर्श एसोसिएशन बालाकोट में किए गए भारतीय वायुसेना के हमले के बाद भारतीय फिल्मों का बहिष्कार करेगा। 

हुसैन ने यह भी कहा कि उन्होंने पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया नियामक प्राधिकरण को ‘मेड इन इंडिया’ विज्ञापनों पर कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। आपको बता दें कि भारत में पाकिस्तान के कई कलाकार भारत में काम करते हैं।साथ ही कई सेलेब्स बॉलीवुड में भी काम करते हैं। 

इससे पहले भी भारत-पाक सीमा पर हुए विवाद के बाद पाक कलाकारों को भारत में काम नहीं देने की बात कही जा चुकी है लेकिन पुलवामा हमले के बाद खुद भारतीय कलाकारों ने पाक कलाकारों संग काम नहीं करने की बात का समर्थन किया। 

शायद यही वजह है कि भारत और पाकिस्तान के बीच तनातनी के बावजूद पाकिस्तानी सिंगर्स राहत फतेह अली ख़ान और आतिफ असलम एक के बाद एक कई फिल्मों में गा रहे हैं।