Birthday Spl- जब 15 साल छोटी डिंपल कपाड़िया से राजेश खन्ना ने की थी शादी, देखिए तस्वीरें

11 months ago

 

कहा जा ता है कि बॉलीवुड में ऐसे कई स्टार होते हैं जो एक बार आते ही दर्शकों के दिलों में छा जाते हैं । इन्ही में से एक हैं लेट एक्टर राजेश खन्ना । जी हां, आज राजेश खन्ना भले ही हमारे बीच नहीं है लेकिन उनके जन्मदिन पर आज भी उन्हें उनके चाहने वाले य़ाद करते हैं । 27 मार्च 1973 ......धूम धाम से निकली थी राजेश खन्ना की बारात ...उस वक्त के सबसे बड़े सितारें की शादी थी.ऐसे में मुंबई की सड़कों का तो जाम होना ही था। पूरी मुंबई राजेश खन्ना के बारात को देखती रह गईं. 70s की सबसे चर्चित शादी थी ये। सुपर स्टार राजेश खन्ना उस दौर की सेंसेशन ब़ॉबी यानि डिंपल कपाड़ियां से शादी रचा रहे थे। राजेश खन्ना की बारात में बॉलीवुड के सभी स्टार शामिल थे । घोड़ी पर चढ़े दूल्हे राजेश खन्ना को देखने के लिए लोग सड़कों पर उमड़ पड़े...यहां तक कि बिल्डिंग्स की छत पर भी तिल रखने की भी जगह नहीं थीं..राजेश खन्ना अपनी शादी से बहुत खुश थे लेकिन उन्हें पसंद करने वाली लड़कियां बहुत दुखी थी। 

सुपर स्टार राजेश खन्ना की शादी से एक तरफ लाखो लड़कियां हताश थी तो वहीं बॉलीवुड की एक एक्ट्रेस भी राजेश खन्ना से बहुत खफा थी। वो एक्ट्रेस थी अंजू महेन्द्रू। राजेश खन्ना की जिंदगी में डिंपल कपाड़ियां के आने से पहले अंजू महेन्द्रू उनका प्यार थी। 6 साल दोनों लिव इन में रहे....और शादी करना चाहते थे। अंजु महेंद्रू राजेश खन्ना के स्ट्रगल के दिनों से ही साथ थी...कहते है लिव इन में रहने से पहले दोनों ने सगाई भी कर ली थी। अंजू से उनकी मुलाकात कॅरियर के शुरुआती दौर में ही हुई थी। फैशन डिजाइनर अंजू ने शोबिज के लिए राजेश खन्ना की ग्रूमिंग भी की थी। अंजू महेन्द्रू ने राजेश खन्ना के साथ बंधन फिल्म में काम भी किया था लेकिन राजेश खन्ना नहीं चाहते थे कि अंजू फिल्मों में काम करे। राजेश खन्ना जैसे जैसे स्टारडम की ओर बढ़ते रहे ...अंजू से उनके रिश्तों में तनातनी बढ़ने लगी। राजेश खन्ना ने जब अंजू को छोड़कर डिंपल कपाड़िया की शादी की तो अंजू के लिए ये बड़ा सदमा था. उस दौर की मैगजीन्स में अंजू महेन्द्रु को ये कहते हुए छापा गया कि राजेश खन्ना ने उनके साथ बेवफाई की.राजेश खन्ना और अंजू महेन्द्रु के रिश्ते अब पहले जैसे नहीं रहे थे, ये दोनों के करीबी दोस्तों को पता था. लेकिन ये अंदाजा भी नहीं था कि इसका नतीजा ब्रेक अप हो सकता है. 70s के शुरूआती दिनों में अंजू को इस बात से रस्क होने लगा कि वो राजेश के मुकाबले अपना कोई मुकाम नहीं बना पाई. इस बिना पर दोनों के रिश्ते इतने बिगड़े कि राजेश खन्ना अंजू से अलग रहने लगे और एक रोज फ्लाइट से अहमदाबाद जाते हुए राजेश खन्ना के दिल पर डिंपल कपाड़ियां दस्तक दे गई। 

डिंपल कपाड़िया से राजेश खन्ना की पहली मुलाकात किसी फिल्म के सीन की तरह था.... बॉबी की शूटिंग के दौरान डिंपल अहमदाबाद में एक फिल्मी फंक्शन में हिस्सा लेने जा रही थीं. इसमें राजेश खन्ना भी इनवाइटेड थे. शो के organisers ने फिल्मी सितारों के लिए एक अलग से फ्लाइट भेजी थी।  . राजेश खन्ना जब प्लेन में सवार हुए, तो डिंपल कपाड़िया के बगल में सीट खाली थी। राजेश खन्ना ने डिंपल से पूछा-क्या मैं इस सीट पर बैठ सकता हूं?   डिंपल कहा ...श्योर सर। राजेश खन्ना डिंपल की बगल वाली सीट पर क्या बैठे अपना दिल हार बैठे। फिल्म बॉबी में काम कर रही बोल्ड एंड ब्यूटीफुल डिंपल की खूब चर्चा हो रही है और सुपर स्टार राजेश खन्ना भी उनसे अनजान नहीं थे। राजेश खन्ना के लिए उस दौरान लड़कियां पागल थी.....और ऐसे में सीट के साथ डिंपल ने जैसे राजेश खन्ना को दिल में भी जगह दे दी.मुंबई से अहमदाबाद के घंटे भर के सफर में राजेश खन्ना और डिंपल एक दूसरे से बातों में मशगूल रहे.

 

बातजीत के दौरान दोनों इतने करीब आ गए, कि अहमदाबाद में फंक्शन के दौरान भी एक दूसरे के साथ दिखे. डिनर और लंच के दौरान दोनों एक-दूसरे के साथ बने रहे। उस फंक्शन में बॉलीवुड की कई और हस्तियां थी लेकिन राजेश खन्ना और डिंपल तो एक दूसरे में ही गुम थे. दो दिनों के फंक्शन में डिंपल और राजेश खन्ना कुछ ज्यादा ही क्लोज हो गए। राजेश खन्ना के प्यार में पड़ने से पहले डिंपल रिशी कपूर को डेट कर रही थी....रिशी कपूर ने तो उन्हें अपने नाम की अंगूठी तक पहना दी थी....लेकिन राजेश खन्ना से मिलते ही डिंपल रिशी के प्यार को भूल गई। राजेश खन्ना से डिंपल की एक और दिलचस्प मुलाकात हुई थी। 

राजेश खन्ना और डिंपल की दोस्ती हुई तो दोनों मिलने  जुलने लगे। अंजू से लगातार अनबन से परेशान राजेश को डिंपल का साथ सुकून दे रहा था। उस दौरान राजेश खन्ना इतने पॉपुलर थे कि डिंपल के साथ किसी पब्लिक प्लेस पर मिलना मुश्किल हो जाता था.....इसलिए दोनों अक्सर समुंदर किनारे सुनसान जगह पर मिला करते थे और फिर सागर किनारे ही राजेश खन्ना ने डिंपल की रिंग फिंगर में से रिशी कपूर की दी हुई अंगूठी निकाल कर फेंक दी और फिर अपने नाम की अंगूठी पहना दी थी एक दिन चांदनी रात में समुंदर किनारे घूमते हुए राजेश खन्‍ना ने डिम्पल के आगे शादी का प्रस्ताव रख दिया। राजेश पर पूरे देश की लड़कियां मरती थीं। तो, डिम्पल उनसे शादी का प्रस्‍ताव कैसे ठुकरा सकती थीं?

बिलकुल चट मंगनी पट ब्याह वाले अंदाज में हुई थी राजेश खन्ना और डिंपल कपाड़िया की शादी. डिंपल से मुलाकात के 6 महीने के भी भीतर ही राजेश खन्ना ने शादी का फैसला कर लिया. तब डिंपल की पहली फिल्म बॉबी की शूटिंग चल ही रही थी. लेकिन डिंपल कपाड़िया पर राजेश खन्ना का जादू ऐसा चला कि उन्होंने प्यार में अपने करियर की भी परवाह नहीं की. सिर्फ 16 साल की उम्र में वो शादी के लिए तैयार हो गई। डिंपल ने जब राजेश खन्ना से शादी की ख्वाहिश अपने घर वालों को बताई, लेकिन उनकी मां 16 साल की बेटी की शादी नहीं करना चाहती । उस वक्त राजेश खन्ना डिपंल से उम्र में दुगने बड़े थे।  राजेश खन्ना की उम्र तब 31 साल थी और डिंपल का अभी सोलहवां साल चल रहा था. लेकिन डिंपल के पापा चुन्नीलाल कपाड़िया इस बात से खुश थे कि उनके घर का दामाद राजेश खन्ना जैसा सुपरस्टार बन रहा है. उन्हें अपनी बेटी की पसंद पर नाज था. आखिरकार डिंपल के मम्मी पापा ने राजेश खन्ना से शादी की मंजूरी दे दी. 

और फिर धूमधाम से सुपर स्टार की बारात निकली। चुन्नीभाई के घर जलमहल में बारात का शानदार स्वागत हुआ और फिर सुपर स्टार राजेश खन्ना ने डिंपल के साथ ले लिए सात फेरे । राजेश खन्ना उस दौर में इतने बड़े स्टार थे कि उनकी शादी की एक छोटी-सी फिल्म उस समय देश भर के थिएटर्स में फिल्म शुरू होने के पहले दिखाई गई थी। डिंपल अपने घर जलमहल से विदा होकर राजेश खन्ना के बंगला आर्शीवाद में पहुंची। वहां वो बिल्कुल एक क्वीन की तरह रहती थी । राजेश खन्ना जैसे सुपरस्टार से शादी के बाद डिंपल कपाड़िया की लाइफ पूरी तरह बदल गई. मिसेज राजेश खन्ना बनने के बाद डिंपल बांद्रा के इस बंगले की महारानी बन गई थी शादी के बाद इसे खासतौर पर राजेश खन्ना ने डिंपल के लिए तैयार करवाया. तब डिंपल के आगे पीछे 20 से ज्यादा नौकर चाकरों की टीम भागती थी. बावर्ची से लेकर ड्रेस डिजाइनर और हेयर स्टाइलिस्ट कर तक डिंपल के एक इशारे पर दौड़े चले आते. 1973 का ये वो दौर था जब राजेश खन्ना अपने सुपरस्टारडम के चरम पर थे और बॉबी के रिलीज के बाद डिंपल पूरे देश की धड़कन बन चुकी थी। 

फिल्म बॉबी के लिए डिंपल कपाड़िया को भी बेस्ट एक्ट्रेस का फिल्मफेयर अवार्ड मिला. इस अवार्ड के साथ डिंपल अब सिर्फ मिसेज खन्ना नहीं रह गई थीं. बल्कि फिल्म इंडस्ट्री की सबसे पॉपुलर एक्ट्रेस हो गईं. ..राजेश खन्ना वाइफ डिंपल को लेकर बहुत प्रोसेसिव थे....इसलिए डिंपल की पढ़ाई-लिखाई, एक्टिंग भी बंद हो गई। उन्हें कई फिल्मों के ऑफर्स आ रहे थे लेकिन माना जाता है राजेश खन्ना डिंपल के फिल्मों में काम करने के पक्ष में कतई नहीं थे.....डिंपल इससे काफी हताश होने लगी थी। डिम्पल ने एक इंटरव्यू में कहा था, 'मैं वैसा ही करती थी जैसा उन्हें पसंद था। पर इसके लिए कभी उन्होंने एक शब्द भी नहीं कहा। उनके आसपास के लोग उनके चमचों की तरह थे। उनके साथ भी मुझे तालमेल बैठाना पड़ता था।' राजेश खन्ना ने डिंपल का फिल्मों में काम नहीं करने को हमेशा डिंपल का अपना फैसला बताया. लेकिन दबी जुबान से ये चर्चा नहीं रुकी कि डिंपल के इस फैसले के पीछे राजेश खन्ना का ही दबाव था. फिल्म इंडस्ट्री में तमाम कानाफूसियों के बावजूद डिंपल हर पार्टी में राजेश खन्ना के हाथ में हाथ डाले खुश दिखती। वो राजेश खन्ना की खुशियों में अपनी खुशी ढूंढ रही थी

इसी दौैरान इंडस्ट्री में एंग्री यंग मैन अमिताभ बच्चन की एंट्री हुई, काका की जगह अमिताभ लेने लगे तो स्टारडम की रेस में नाकामी का असर कहीं न कहीं राजेश खन्ना की असल जिंदगी पर भी दिखने लगा. राजेश खन्ना अब पहले से ज्यादा शराब पीने लगे थे और अपनी नाकामी का फ्रस्टेशन परिवार पर उतारने लगे थे। इस दौर में पत्नी डिंपल फिल्मों में वापस आना चाह रही थीं. लेकिन कहा जाता है कि डिंपल की वापसी के जिक्र पर भी राजेश खन्ना भड़क जाते. इसे लेकर दोनों के बीच 4 साल तक तकरार चली.आखिरकार 1984 में डिंपल कपाड़िया ने अपनी दोनों बेटियों के साथ राजेश खन्ना का घर छोड़ दिया. बात तलाक तक पहुंच गई. लेकिन डिंपल ने अपना इरादा नहीं बदला और डिंपल ने फिल्में साइन करनी शुरू कर दी। 

डिंपल से अलग होने के बाद राजेश खन्ना आशीर्वाद में अकेले पड़ गए. उसके बाद राजेश खन्ना का नाम कई लोेगों से जुड़ा लेकिन डिंपल से उनका तलाक नहीं हुआ। डिंपल और राजेश खन्ना अब भी एक साथ नहीं रह रहे थे। लेकिन राजेश खन्ना के आखिरी दिनों में डिंपल उनके साथ साए की तरह बनी रही...साल 1984 में डिंपल आर्शीवाद छोड़कर गई थी और राजेश खन्ना के बीमार पड़ने पर वो यहां वापस आई...राजेश खन्ना जब हमेशा के लिए आंखें मूंद रहे थे तब भी डिंपल उनके सामने खड़ी थी। डिंपल भले ही राजेश खन्ना के लिए अपना प्यार नहीं निभा सकी लेकिन आखिरी दिनों में उन्होंने पत्नी धर्म अच्छी तरह से निभाया। 18 जुलाई 2012 को राजेश खन्ना सभी को अलविदा कह गए। 

 

 

Related Posts