रानी मुखर्जी के पिता राम मुखर्जी का निधन, मुखर्जी परिवार में शोेक की लहर

1 years ago

रानी मुखर्जी के पिता राम मुखर्जी नहीं रहें।  आज सुबह 4 बजे मुंबई के एक अस्पताल में उनका निधन हो गया। वे लंबे समय से बीमार थे। राम मुखर्जी के पार्थिव शरीर को अस्पताल से उनके जुहू वाले घर घर जानकी कुटीर लाया जा चुका है।  आज दोपहर में विले पार्ले स्थित पवन हंस श्मशान भूमि पर उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। बॉलीवुड़ की कई हस्तियां राम मुखर्जी के अंतिम दर्शन को पहुंच रही हैं।  राम हिंदी और बंगाली सिनेमा के जाने-माने डायरेक्टर, प्रोड्यूसर और राइटर रहे। राम मुखर्जी अभिनेता जॉय मुखर्जी के चचेरे भाई थे। 1996 में रानी मुखर्जी की पहली बंगाली फिल्म बियेरे फूल राम मुखर्जी ने डायरेक्ट की थी। 1997 में रानी की पहली हिंदी फिल्म राजा की आएगी बारात रिलीज हुई थी। ये फिल्म राम मुखर्जी के प्रोडक्शन बैनर तले बनी थी। राम मुखर्जी ने 'लीडर', 'हम हिंदुस्तानी' 'एक बार मुस्करा दो' और रक्ते लेखा जैसी फिल्मों का निर्देशन किया। 

Related Posts