ऋषि कपूर ने पाकिस्तान से उनकी पुरखों की हवेली को म्यूजियम बनाने की मांग की , पाक ने किया मंजूर

1 months ago

रणबीर कपूर के पापा ऋषि कपूर ने पाकिस्तानी सरकार के सामने रखी एक दरख्वास्त रखी है। ऋषि ने पाकिस्तानी गवरनमेंट से उनके पुश्तेनी मकान को म्यूजियम में तबदील करने की रिक्वेंस्ट की है। दरअसल ऋषि के परदादा बशेश्वरनाथ  कपूर ने पेशावर के किस्सा खवानी बाजार में एक हवेली ली थी बाद में वो हिस्सा पाकिस्तान में चला गया तो उनका उस हवेली में आना जाना कम हो गया। खबरों की मानें तो ऋषि की इस ख्वाहिश को पाकिस्तानी सरकार ने स्वीकार भी कर लिया हैय़ पाकिस्तान के विदेश मंत्री महमूद कुरैशी ने ऋषि की उस हवेली को म्यूजियम में तब्दील करने का एलान कर दिया है। 

बॉलीवुड के लीडेंजरी पृथ्वीराज कपूर के पिता बश्वेवरनाथ कपूर थे और 1947 में हुए बटवारे में कपूर परिवार ने पेशावर हमेशा के लिए छोड़ दिया था। इससे पहले भी ऋषि पाकिस्तान से अपना लगाव जाहिर कर चुके हैं। एक बार ऋषि ने लिखा था कि पाकिस्तान घूमने जाना चाहते हैं। इस बात को लेकर उन्होंने एक ट्वीट भी किया। ऋषि कपूर ने अपने ट्वीट में लिखा,'मैं 65 साल का हूं और मरने से पहले पाकिस्तान देखना चाहता हूं।'उन्होंने आगे लिखा, 'मैं चाहता हूं कि मेरे बच्चे अपनी जड़ को देखें।'  

बता दें कि पाकिस्तान के पेशावर में कपूर खानदान का एक घर है। इस मकान को दीवान बशेश्वरनाथ कपूर ने सन् 1918 से 1922 के बीच बनवाया था। दीवान बशेश्वरनाथ कपूर, पृथ्वीराज कपूर के पिता थे। पृथ्वीराज कपूर, कपूर खानदान से फिल्म इंडस्ट्री में आने वाले पहले शख्स थे। 1947 में भारत-पाकिस्तान के बंटवारे के बाद कपूर खानदान भारत में शिफ्ट हो गया ।  ऋषि कपूर ने पाकिस्तानी खिलाड़ियों को फिर से आईपीएल में शामिल किए जाने की भी मांग की । ऋषि कपूर ने आईपीएल का 10वां संस्करण शुरू होने से एक दिन पहले मंगलवार की रात ट्वीट कर यह अपील की। - ऋषि कपूर ने लिखा, ‘आईपीएल, जहां पूरी दुनिया के खिलाड़ी खेलने आते हैं। अफगानिस्तान भी पहली बार इसमें प्रतिनिधित्व पा चुका है। मेरी अर्जी है कि कृपया पाकिस्तानी खिलाड़ियों को भी शामिल करने पर विचार किया जाए। फिर मैच होगा! हम बड़े लोग हैं..प्लीज।‘ । 

 बता दें कि कि भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट संबंध लंबे समय से खराब चल रहे हैं। 2008 के बाद पाकिस्तान का कोई भी खिलाड़ी आईपीएल में नहीं खेला है। ऋषि कपूर इन दिनों अमेरिका में हैं। कहा जा रह3ा है कि वो वहां एक गंभीर बीमारी का इलाज करवा रहे हैं। वहीं से उन्होंने ये चिट्ठी पाकिस्तान सरकार को लिखी है

IMAGE - SOCIAL MEDIA