कोर्ट कहे तो संजय दत्त को फिर से भेज देंगे जेल- महाराष्ट्र सरकार

1 years ago

 

बॉलीवुड अभिनेता संजय की एकबार फिर मुश्किलें बढ़ सकती है। संजय दत्त को उनकी सजा पूरी होने से 8 महीने रिहा करने के मुद्दे पर एकबार फिर बॉम्बे हाईकोर्ट में सुनवाई हो रही है। सुनवाई के दौरान अपना पक्ष रखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने कहा है कि अगर कोर्ट को लगता है कि संजय दत्त को नियमों की अनदेखी करके समय से पहले रिहा किया गया है तो वो उन्हें फिर से जेल भेजने के लिए तैयार है। 

साथ ही महाराष्ट्र सरकार का कहना है कि संजय दत्त को नियमों के अनुरूप रिहा किया गया और उनके साथ कोई विशेष व्यवहार नहीं हुआ है। संजय को उनके अच्छे आचरण, अनुशासन एवं शारीरिक अभ्यास, शैक्षणिक कार्यक्रमों जैसे विभिन्न संस्थागत गतिविधियों में हिस्सा लेने तथा आवंटित काम करने के लिए सजा में छूट दी गई। जेल के दौरान संजय को कोई VIP ट्रीटमेंट नहीं दिया गया था।

महाराष्ट्र सरकार एक जनहित याचिका की सुनावाई के दौरान बॉम्बे हाईकोर्ट में ये बातें कही। याचिका में संजय को कैद के दौरान कई बार पैरोल तथा फरलो दिए जाने पर भी सवाल किए गए है। भालेकर ने याचिका में आरोप लगाया है कि दत्त को सजा में छूट देकर कारागार विभाग ने अनुचित लाभ दिया।

दरअसल हथियार रखने के जुर्म में संजय दत्त को 5 साल की जेल की सजा सुनाई गई थी। ये हथियार 1993 के विस्फोटों में इस्तेमाल किए गए हथियारों के जखीरे का हिस्सा थे। इस मामले में मुकदमे की सुनवाई के दौरान जमानत पर बाहर रहे अभिनेता ने उच्चतम न्यायालय द्वारा अपनी दोषसिद्धि बरकरार रखने के बाद मई, 2013 में आत्मसमर्पण किया था। संजय को पुणे के येरवदा जेल में रखा गया था और अच्छे आचरण को देखते हुए सजा पूरी होने से 8 महीने पहले ही फरवरी, 2016 में रिहा कर दिया गया था।

Related Posts