74 साल की हुईं शर्मिला टैगोर, बहुत दिलचस्प है नवाब पटौदी और शर्मिला की लवस्टोरी !

1 months ago

\

बॉलीवुड की जानी मानी एक्ट्रेस रही शर्मिला टैगोर 74 साल की हो गई हैं। उनके जन्मदिन पर नवाब मंसूर अली खान और उनकी कहानी का जिक्र होना ही चाहिए। साल 1966 की बात है। मुंबई के एक 5 स्टार होटल में शानदार पार्टी चल रही थी। बॉलीवुड की कई हस्तिया उस पार्टी में मौजूद थी। क्रिकेट वर्ल्ड के कई स्टार्स भी वहां मौजूद थे। किसी को नहीं पता था कि ये पार्टी बॉलीवुड की डिंपल गर्ल को उसके सपनों के राज कुमार से मिलाने वाला है।शर्मिला की एक सहेली ने इसी पार्टी में उनकी मुलाकात मंसूर अली खान पटौदी से करवाया। पटौदी को टाइगर के नाम से भी जाना जाता था। इस मुलाकात में शर्मिला को यह जानकर निराशा हुई कि टाइगर को फिल्मों में कोई दिलचस्पी नहीं थी । इतना ही नहीं, उन्होंने शर्मिला की कोई फिल्म ही नहीं देखी थी लेकिन शर्मिला टैगोर के गालों में पड़ने वाले उन डिम्पल ने टाइगर पर जादू चला ही दिया।

उन दिनों पटौदी मुंबई में एक क्रिकेट मैच खेल रहे थे, उन्होने शर्मिला और उनकी सहेली को मैच देखने की दावत दी और फिर दो चार मुलाकातों में क्रिकेटर मंसूर अली खान शर्मिला के हाथों कैच आउट हो गए। मेल-मुलाकातें बढ़ती गई। प्यार बढता रहा।  

टाइगर जब भी मैच विदेशों में मैच खेलने जाते तो शर्मिला के गिफ्ट्स जरूर लाते थे। शर्मिला को महंगे से महंगे परफ्यूम तोहफे में देते थे। टाइगर और शर्मिला फेमस कपल बन गए और साथ साथ फिल्मी पार्टियों में नजर आने लगे। शर्मिला भी नवाब का साथ उन पार्टियों में हाजिर होकर देने लगीं, जो क्रिकेट या शाही खानदान से जुड़ी होती थीं।

शर्मिला बहुत खुले माहौल में पली बढी थी। उन्होंने पहली बार शराब अपने पापा के साथ पी थी। सिगरेट की भी वे शौकीन रहीं। उनकी मॉर्डन लाइफ स्टाइल को देखकर लोग यहीं समझते थे कि टाइगर और शर्मिला का साथ लंबा नहीं चलेगा लेकिन शर्मिला ने सबको गलत साबित कर दिया।

एन इवनिंग इन पेरिस फिल्म में जब शर्मिला टू पीस बिकिनी गर्ल बनकर आई...तो सनसनी मच गई थी.सबने ने यहीं सोचा था कि टाइगर पटौदी का परिवार शर्मिला के इस खुलेपन को पसंद नहीं करेगा

नवाब का खानदान अपनी बहू को इस तरह जिस्म की नुमाइश करते नहीं देख पाएगा, लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। शर्मिला और टाइगर का प्यार इतना मजबूत साबित हुआ कि इसके टूट जाने की भविष्यवाणी करने वाले गलत साबित हुए।

27 दिसंबर 1968 में शर्मिला और मंसूर अली खान पटौदी ने शादी कर ली।  टाइगर की बारात शर्मिला के कोलकाता वाले घर में आई । निकाह के दौरान शर्मिला का नाम आएशा सुल्ताना रखा गया लेकिन ये नाम निकाह तक ही सीमित रहा। नबाव पटौदी और दुनिया के लिए वो शर्मिला टेगोर ही बनी रही। टाइगर ने हमेशा उन्हें इसी नाम से पुकारा।

शर्मिला और टाइगर के तीन बच्चे हुए टाइगर इतने कॉपरेटिव थे कि शादी के बाद शर्मिला ने अपने करियर की सबसे बड़ी हिट फिल्म अराधना दी। शर्मिला फिल्मों में काम करती रही ....शादी के 6 साल बाद उन्होंने फिल्म दाग में हॉट बेडरून सीन दिया लेकिन टाइगर ने उनपर कभी रोक नहीं लगाया।  

करीब 44 सालों तक बना रहा टाइगर और शर्मिला का साथ।  साल 2011 के सितंबर में शर्मिला के पति नबाव पटौदी गुजर गए। मौत ने शर्मिला से पटौदी को छिन लिया लेकिन वो उनके दिल में हमेशा जिंदा रहेंगे।