15 सितंबर को सिनेमाघरों में रिलीज होगी ये तीन फिल्में

1 years ago

 

अगले फ्राइडे यानी 15 सितंबर को बॉक्स ऑफिस पर रिलीज होगी एक नहीं तीन-तीन फिल्में। डायरेक्टर हंसल मेहता की फिल्म सिमरन की मेें नजर आएंगी कंगना रनोट।  फिल्म सिमरन में कंगना का रोल इंडियन ओरिजन की रियल लाइफ नर्स से इंस्पायार्ड है। वो नर्स जिस पर गैम्बलिंग के कारण कई तरह से कर्ज चढ़ गया था,जिसे उतारने के लिए उसने चोरी करना शुरू कर दिया  इसके बाद अमेरिका के कोर्ट ने उसे 66 महीने जेल की सजा सुनाई थी

 

कंगना फिल्म में एक गुजराती लड़की सिमरन बनी हैं जो यूएस में हाउसकीपर के तौर पर काम करती  है..सिमरन खूबसूरत है, नटखट और चंचल है, जिसके दिमाग के घोड़े सबसे तेज़ दौड़ते हैं। सिमरन डिवोर्सी है. पब में जब जाती है। लड़कों के साथ जुआ खेलती है।  हारने पे रोती है और बदले में उनको ही लूट लेती है।  शराब पीती है और उसके लिए लड़के पटाना जिसके लिए एक टैलेंट से कम नहीं। 

आजाद ख्याल की अल्हड़ सिमरन कुछ अलग करने की चाह में कैसे क्राइम की दुनिया में कदम रखती है और फिर चाहकर भी बाहर नहीं निकल पाती- इस दौरान कौन सिमरन का साथ देता है और कौन उससे हाथ छुड़ाकर दूर निकल जाता है-इन सारे सवालों के जवाब आपको थिएटर में  ही मिलेंगे। फिल्म के ट्रेलर को काफी अच्छा रिस्पॉन्स मिला है- और प्रमोशन्स तो कंगना ने धमाकेदार तरीके से किया ही है। वहीं, फिल्म सिमरन के लिए म्यूजिक दिया है कंपोजर डूयो सचिन-जिगर ने जिसे व्यूअर्स खूब एंजॉय कर रहे हैं।

15 सितंबर को रिलीज होने वाली दूसकी फिल्म है रंजीत तिवारी डायरेक्टेड लखनऊ सेंट्रल जिसमें एक कैदी का रोल निभा रहे हैं एक्टर फरहान अख्तर। फिल्म लखनऊ सेंट्रल की कहानी है यूपी के मुरादाबाद के रहने वाले किशन मोहन गिरोत्रा की। किशन भोजपुरी सिंगर मनोज तिवारी का बड़ा फैन है और उसका भी सपना एक सिंगर बनने का है। लेकिन एक दिन कुछ ऐसा होता है कि वो किशन एक हत्या के जुर्म में लखनऊ सेंट्रल जेल में कैद हो जाता है। किशन जेल में अपनी डेथ पेनाल्टी के लिए हाई कोर्ट ट्राएल्स का इंतजार कर रहा होता है तभी जेल में एंट्री होती है एनजीओ वर्कर गायत्री कश्यप की। गायत्री को एक कॉम्पिटिशन के लिए होती है कैदियों के एक बैंड की तलाश और इसी सिलसिले में उसकी मुलाकात किशन से भी होती है। इस दौरान किशन चार और कैदियों के साथ अपनी दोस्ती बढ़ाकर उनसे इस बैंड का हिस्सा बने के लिए हां करवा लेता है। 

लखनऊ सेंट्रल जेल में बीत रही किशन की जिंदगी में किस तरह से ड्रामैटिक बदलाव आता है- कैसे म्युजिक ना सिर्फ उसके बल्कि बाकी साथी कैदियों के सफर का भी एक अहम हिस्सा बन जाता है- क्या वो जेल से भागने में कामयाब हो पाते हैं..ये जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी। सपने और कैद से आजादी के बीच झूलते दिखे फरहान अख्तर की फिल्म का ट्रेलर और म्युजिक दोनों को ही बेहतर  रिस्पॉन्स मिला है।

 अगले हफ्ते रिलीज हो रही तीसरी फिल्म यानि पटेल की पंजाबी शादी की। बॉलीवुड में यूं तो इंटर कास्ट, इंटर कल्चर और इंटर रिलीजन में होने वाली शादी की कहानियां दिखाना कोई नई बात नहीं लेकिन इस फिल्म के जरिए इस टॉपिक को कॉमेडी के तौर पर व्यूअर्स के सामने पेश किया गया है। फिल्म की कहानी दो अलग-अलग कम्यूनिटिज की शादी पर ही बेस्ड है। जिसमें है एक गुजराती और एक पंजाबी परिवार की तकरार और उनके बच्चों की प्रेम कहानी।

हंसमुख पटेल बने परेश रावल एकदम परंपरागत गुजराती व्यापारी हैं तो वहीं गुग्गी टंडन यानि ऋषि कपूर हैं ठेठ पंजाबी। क्या होगा जब इन दोनों के बच्चों यानि पायल घोष और वीर दास को होगा एक दूसरे से प्यार, कैसे आगे बढ़ेगी इन दोनों की लव स्टोरी। दो परिवारों के बीच झगड़े तो जरुर होंगे लेकिन आखिर में फिल्म के जरिए क्या मेसेज दिया जाएगा ये फिल्म देखने के बाद पता चलेगा।

यानि कुल मिलाकर अगले फ्राईडे आपको मिलने वाले हैं एंटरटेनमेंट के कई ऑप्शन्स जहां क्वीन कंगना सिमरन बनकर आपसे मिलने आएंगी तो वहीं फरहान अख्तर एक म्यूजिकल जर्नी लिए होंगे हाजिर- इनके अलावा होगी 2 अलग-अलग कम्यूनिटीज़ की रोमैंटिक कॉमेडी फिल्म ।

Related Posts