बर्थडे स्पेशल- धमाकेदार करियर के साथ विवादों से भी जुड़े रहे हैं सोनू निगम

1 years ago

कहते हैं कि सफलता का शिखर छूना कोई मुश्किल तो नहीं है। जब मेहनत और लगन साथ हो तो ऐसा बड़ी ही आसानी से हो जाता है। कुछ ऐसा ही हुआ है सिंगर सोनू निगम के साथ जो आज 45 साल के हो गए हैं। सोनू ने अपनी आावाज़ से करोड़ों लोगों के दिल पर राज किया है। हिंदी फिल्मों  में ही नहीं बल्कि कई और भाषाओं में भी सोनू के गानों ने एक उन्हें पहचान दिलाई है।

यूं तो सोनू को बचपन से ही गाने का बड़ा शौक रहा है। वो जब 4 साल के थे तभी से सिंगर बन गए थे। सोनू का जन्म 30 जुलाई 1973 को हरियाणा के फरीदाबाद में हुआ था। सोनू निगम के माता-पिता भी सिंगर थे।

सोनू निगम ने बचपन में ही एक स्टेज शो के दौरान अपने पिता के साथ मोहम्मद रफी का गाना ‘क्या हुआ तेरा वादा’ गाया। नन्हे सोनू की आवाज ने सभी को चौंका दिया इसके बाद कई शादियों और पार्टियों में गाना गाने लगे।

  स्ट्रगल के बाद बनाई पहचान- सोनू निगम 18 साल की उम्र में सोनू अपने सपनों को साकार करने मुंबई आ गए। सोनू को मुंबई में शुरुआती सालों में काफी स्ट्रगल करना पड़ा।  इसी दौरान फेमस म्यूजिक कंपनी टी-सीरीज ने सोनू के साथ मिलकर ‘रफी की यादें’ नाम से एक एलबम निकाला। लेकिन यहां से भी वो  बात नहीं बनी। सिंगर के तौर पर सोनू ने बॉलीवुड फिल्म ‘नम’ से डेब्यू किया।  लेकिन अफसोस से यह फिल्म रिलीज नहीं हो पाई।

इसके बाद सोनू को काफी स्ट्रगल करना पड़ा।  इसी दौरान सोनू ने बी औऱ सी ग्रेड फिल्मों में भी गाने गाए। वहीं साल 1995 में सोनू की किस्मत चमकी। इसी साल सोनू को  मशहूर सिंगिंग रियलिटी शो ’सारेगामा’ होस्ट करने का मौका मिला। बस यहीं से सोनू ने थोड़ी पहचान बनाई। इसके बाद फिल्म ‘सनम बेवफा’ में सोनू ने गाना गाया। इस फिल्म के गाने ‘अच्छा सिला दिया तूने मेरे प्यार का’ ने सोनू को रातों रात स्टार बना दिया।

ये गाना जबरदस्त हिट साबित हुआ। इसके बाद सोनू निगम ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा वे लगातार कामयाबी की सीढ़ियां चढ़ते चले गए। सोनू ने कई पॉप एलबम भी रिलीज़ की जिनको लोगों ने काफी पसंद भी किया। उस दौर में सोनू के आते ही ज्यादा से ज्यादा फिल्ममेकर सोनू को ही अपनी फिल्म की आवाज बनाने लगे। इकलौते सोनू ऐसे सिंगर रहे हैं जिन्होंने उस दौर में सिंगिंग की दुनिया के बादशाह कहे जाने वाले उदित नारायण और कुमार शानू जैसे सिंगर्स को कड़ी टक्कर दी। सोनू निगम ने ‘संदेशे आते है' , ‘अब मुझे रात दिन बस तुम्‍हारा ही ख्‍याल है’ , ‘सूरज हुआ मधम’ , ‘साथिया’ , ‘कल हो न हो’ , ‘मैं अगर कहूँ’, ‘ऑल इज वेल’ और ‘अभी मुझमें कहीं बाकी है थोड़ी जिंदगी’ जैसे कई सुपरहिट गाने गाए हैं। चाहे जैसे भी गाने हो रोमांटिक, रॉक, सैड, देशभक्ति हर तरह के गाने में सोनू परफेक्ट रहे हैं। तभी तो सोनू को सिंगिंग की दुनिया का बादशाह भी कहा जाता है। सोनू निगम की सफलता ही है जो इन्हें सलमान, शाहरुख और आमिर जैसे सुपरस्टार्स की आवाज कहा जाने लगा।

युवाओं के बीच छाए सोनू- सोनू के गानों की आवाज़ हर जगह गूंजी हैं। सोनू के सिंगिंग का जलवा देख लड़कियां भी उन पर दीवानी थी। कई लड़िकियों ने सोनू को कई बार प्रपोज भी किया था।  अपने गानों के जरिए सोनू  लोगों के दिलों पर छाए रहे। फिल्मों में गाना गाने के साथ साथ सोनू टीवी पर भी खूब छाए। 2002 में स्टार प्लस के टीवी शो किसमें कितना है दम को सोनू ने होस्ट किया है। इसके साथ ही इंडियन आइडल के जज भी सोनू बन चुके हैं । राहत नुसरत फतेह अली खान के साथ छोटे उस्ताद-दो देशों की एक आवाज में भी जज बने दिखे थे सोनू। सोनू की आवाज़ का जादू सबसे ज्यादा युवाओं पर चला। उनके गाने की आवाज लोगों के दिल तक पहुंचती थी। सोनू ने एक बार एक इंटरव्यू में कहा था कि उनके पिता अगम कुमार निगम जब भी उन्हें किसी शो के बाद मिलते थे तो उनके साथ हर बार एक नई लड़की होती थी। वहीं सोनू को दर्शकों से भी काफी प्यार मिला है। एक दशक तक सोनू ने लोगों के दिलों पर राज़ किया है। अब भी सोनू की आवाज की दीवानगी लोगों के सिर से नहीं उतरी है। 

विवादों से रहा गहरा नाता-

सोनू निगम का विवादों से भी गहरा नाता रहा है। एक बार नहीं बल्कि कई बार सोनू विवादों में घिर चुके हैं। सोनू जेट एयरवेज में गाना गाकर भी फंस चुके हैं। सफर के दौरान फ्लाइट में सोनू ने गाना गाया बस इसी बात पर विवाद हो गया। फ्लाइट में सोनू ने उद्घोषणा प्रणाली का इस्तेमाल करके गाना गाया था, जिसके बाद फ्लाइट के क्रू मेंबर्स को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा। सोनू निगम के गाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद भी खूब हंगामा हुआ था।

वहीं इसके बाद सोनू राधे मां का सपोर्ट करके भी फंस चुके हैं। सोनू निगम ने खुद को देवी बताने वाली राधे मां का सपोर्ट किया था। जिसके बाद सोनू सीधा विवादों में फंस गए। 2015 में सोनू ने टि्वटर पर राधे मां को काली मां का रुप बता दिया था। सोनू ने ट्विटर पर ट्वीट कर कहा था कि 'देवी काली मां को राधे मां से भी कम कपड़ों में दर्शाया जाता है। इस ट्वीट के बाद सोनू को आड़े हाथों ले लिया गया।

किसानों की आत्महत्या के चलते सोनू इसमें भी फंस चुके हैं। सोनू ने अप्रैल 2015 में किसान के आत्‍महत्‍या मामले में आम आदमी पार्टी के नेता कुमार विश्‍वास का सपोर्ट करते हुए ट्वीट किया था। सोनू ने एक बड़े मीडिया ग्रुप का वीडियो शेयर किया था और कहा था कि उसमें आवाज डाली गई है और इसे ऐसा रूप दिया गया है कि मामले का आरोप कुमार विश्वास पर लगे। इसके बाद उस मीडिया ग्रुप ने सोनू निगम पर बैन लगा दिया था। जिसके बाद ट्विटर पर सोनू ने इस मुद्दे को उठाया तो लोगों ने उन्हें सपोर्ट भी किया।

सोनू निगम की सबसे बड़ी कॉन्ट्रोवर्सी आई अभी कुछ दिन पहले ही। जब सोनू ने अजान पर ट्वीट करके मुसीबत को मोल ले लिया। सोनू ने सुबह सुबह एक के बाद एक चार ट्वीट किए जिसमें उन्होंने मस्जिद में रोज सुबह लाउडस्‍पीकर पर बजने वाले 'अजान' को लेकर ट्वीट किया और उसे शोर बताया। साथ ही उन्होंने  कहा कि अजान की वजह से रोज उनकी नींद खराब होती है। इसके बाद तो सोनू तुरंत ही विवादों में फसं गए और उन्हें ट्विटर पर ट्रोल किया गया। हालांकि आजान वाले मामले को लेकर उन्होंने सफाई भी दी। सोनू ने कहा भी कि वो धर्मनिरपेक्ष हैं और उनकी मंशा किसी भी धर्म की आलोचना करना नहीं था। लेकिन सोनू के ट्वीट से भड़के पश्चिम बंगाल के एक मौलवी सैयद शाह आतिफ अली अल कादरी ने उनके बाल मुंडवाने वाले के लिए 10 लाख रुपये का इनाम रख दिया।

यहां तक की इस मौलवी ने सोनू निगम के गले में पुराने जूते की माला पहननाकर देश में घूमाने का फतवा भी जारी किया था। जिसके बाद सोनू ने सैयद शा कादरी के ट्वीट पर रिप्लाई दिया और कहा कि क्या ये धार्मिक गुंडागर्दी नहीं है। जिसके बाद सोनू ने खुद ही अपना सर मुंडवा लिया और वहीं सर मुंडवाने से पहले सोनू ने कहा कि वो बाल मुंडवाने के लिए तैयार हैं बस मौलवी इनाम की रकम तैयार रखें। वहीं सैयद शा कादिरी ने कहा कि जिन बातों को पूरा करने के लिए उन्होंने फतवा जारी किया था, सोनू निगम ने वो पूरी नहीं कीं। सोनू ने तीन बातों में से दो बातें अभी भी पूरी नहीं हुईं। ईनाम के पैसे देने पर मौलवी ने कहा, 'हम 10 लाख रुपये तभी देंगे, जब वो बाकी दो बातों पर भी अमल करेंगे। एक पुराने जूते की माला पहनना और दूसरी पूरे देश में घूमना। बरहाल ये मामला धीरे धीरे ठंडा हो गया।

सोनू निगम की जिंदगी सफलता के साथ साथ विवादों भरी रही है। वहीं सोनू आज खुशहाल जिदगी जी रहे हैं। निजी जिंदगी में सोनू निगम ने 15 फरवरी साल 2002 में मधुरिमा से शादी की। मधुरिमा एक बंगाली परिवार से हैं।

वहीं सोनू और मधुरिमा का एक लड़का भी है जिसका नाम निवान निगम है। सोनू ने अबतक बहुत कुछ हासिल किया है।

भले ही आजकल सोनू कम ही गाने गाते हों, लेकिन कभी आशा भोंसले जैसे लेंजड्री सिंगर्स से लेकर श्रेया घोषाल तक सभी के साथ सोनू की आवाज़ ने ताल से ताल मिलाई है। सोनू के जन्मदिन पर उन्हें ढेरों शुभकामनाएं.

 

Related Posts