बेटी जाहन्वी को हीरोइन नहीं दुल्हन बने देखना चाहती थीं श्रीदेवी !

10 months ago

 

श्रीदेवी के गुजर जाने से बॉलीवुड सदमे में है। फैंस निराश है। परिवार के लोग दुखी है लेकिन  श्रीदेवी का निधन सबसे ज्यादा उनकी दोनों बेटियों की जिंदगी को प्रभावित करेगा। जाह्नवी की उम्र 22 साल की है तो वहीं खुशी सिर्फ 17 साल की है। दोनों बेटियां ऐसी उम्र में हैं जब मां की सबसे ज्यादा जरूरत होती है। जान्हवी की पहली फिल्म 'धड़क' इस साल रिलीज होने वाली है, लेकिन श्रीदेवी उसे देख नहीं पाएंगी। श्रीदेवी अपनी बेटियों के हर सपने को पूरा करना चाहती थीं। बेटी जान्हवी को बॉलीवुड में लॉन्च के लिए खुद श्रीदेवी ने ग्रूम किया था। वो अपनी बेटी की पहली फिल्म के लिए उनकी हर संभव मदद भी कर रही थीं, लेकिन एक आम मां की तरह श्रीदेवी जान्हवी को हीरोइन बनते नहीं बल्कि दुल्हन बने देखना चाहती थी।

एक इंटरव्यू में श्रीदेवी ने कहा था कि, ''जान्हवी  फिल्मों में काम करना चाहती है, मैं इस बात से खुश नहीं हूं। बॉलीवुड में करियर बनाना आसान नहीं है। बस मेहनत है, कॉम्पटीशन है। काफी स्ट्रगल है। मेरा ये मतलब नहीं है कि ये बॅालीवुड इंडस्ट्री खराब है पर हर मां बाप की तरह पहले मैं जाह्नवी का घर बसते देखना चाहती हूं।  मुझे ज्यादा खुशी होगी अगर वो दुल्हन बने।  लेकिन जाह्नवी की खुशी एक्टिंग करने में है तो हम सब उसके साथ हैं। अगर वो एक अच्छी एक्टर साबित होती है तो मुझे काफी गर्व महसूस होगा।"

श्रीदेवी अपनी बेटियों के बहुत करीब थी। अक्सर वो अपनी फैमिली के साथ आउटिंग पर जाती रहती थी। फिल्म धड़क की शूटिंग की वजह से जान्हवी मां के साथ नहीं जा पाई थी। अंतिम समय वो मां को देख नहीं पाई। श्रीदेवी जान्हवी की फिल्म का बेसब्री से इंतजार कर रही थी लेकिन बेटी की फिल्म के रिलीज से पहले ही श्रीदेवी चल बसी ।