21 साल की हुईं जाहन्वी कपूर, जब श्रीदेवी थीं तब कितना खुश था परिवार, देखिए फैमिली अलबम

11 months ago

वो खूबसूरती और वो चांदनी अब किसी को देखने को नहीं मिलेगी । हाल ही में बॉलीवुड की पहली महिला सुपरस्टार रही श्रीदेवी का निधन हो गया है । श्रीदेवी के निधन से हर कोई सदमे में है ।

 अपने भांजे मोहित मारवाह की शादी को अटेंड करने के लिए श्रीदेवी दुबई गईं थी ।शादी के बाद वो इंडिया वापस नहीं आई और 24 फरवरी को रात 11 बजे होटल के कमरे में उनका निधन हो गया ।  

ऐसा लग रहा है कि किसी ने अपनी बहुत चहेती चीज को खो दिया है । आज उनकी लाड़ली बेटी जाहन्वी कपूर अपना 21वां जन्मदिन मना रही है ।

जी हां, आज जाहन्वी का बर्थडे है । ऐसा पहली बार हुआ है जब उनकी मां श्रीदेवी उनके बर्थडे पर उनके साथ नहीं हैं । श्रीदेवी चाहती थी कि जाहन्वी का बर्थडे खास तरीके से इस बार भी सेलिब्रेट हो लेकिन वो अब नहीं है ।

श्रीदेवी अपने परिवार और बेटी खुशी-जाहन्वी पर जान छिड़कती थी । श्रीदेवी अपने बच्चों और पति बोनी से बेइंतहा मोहब्बत करती थी ।

वो कहीं भी जाती तो उन्हीं के साथ जाती । उनके लिए सबसे पहले उनका परिवार था ।

सोशल मीडिया पर आए दिन वो अपने परिवारवालों के साथ पिक्चर्स को शेयर करती रहती ।

अगर आप उनके इंस्टाग्राम को देखेंगे तो आपको उनकी फैमिली पिक्चर्स सबसे ज्यादा देखने को मिलेगी । श्रीदेवी के जाने पूरे देश में शोक की लहर है ।

किसी को विश्वास नहीं हो रहा है कि श्रीदेवी आज हमारे बीच नहीं है ।

श्रीदेवी कम बोलती थी, कम दोस्त बनाती थी लेकिन जो भी उनसे जुड़ा वो हमेशा जुड़कर रहा।

बेटी जाहन्वी के डेब्यू के लिए श्रीदेवी ने दिन-रात सपने देखे थे । वो चाहती थी कि जाहन्वी बस उन्हीं के सामने बॉलीवुड में एंट्री करे ।

लेकिन अफसोस होनी को कुछ और ही मंजूर था । वो अपनी बेटियों आगे बढ़ते देखना चाहती थी ।

वो चाहती थी कि जैसा मुकाम उन्होंने हासिल किया था वैसा ही उनकी बेटिया भी करें । परिवार के साथ हमेशा ही हॉलिडे पर जाना, लंच डेट हो या फिर डिनर डेट हो ।

उनका ज्यादा वक्त परिवार के साथ ही गुजरता था । किसी फंक्शन में भी अगर वो जाती थी तो अपनी बेटियों या फिर पति के बिना नहीं जाती थी ।

परिवार से उनका लगाव एक अटूट बंधन के जैसा था । श्रीदेवी का जन्म 13 अगस्त 1963 को तमिलनाडु में हुआ था।

श्रीदेवी का स्टारडम 80 और 90 के दशक में लोगों के सिर चढ़कर बोलता था। श्रीदेवी ने महज चार साल की उम्र में एक तमिल फिल्म में अभिनय किया था।

तमिल फिल्म 'थुनैवन' में चाइल्ड आर्टिस्ट के तौर पर उन्होंने काम किया।

नन्ही श्रीदेवी को मलयालम फिल्म 'मूवी पूमबत्ता' के लिए केरला स्टेट फिल्म अवार्ड से भी सम्मानित किया गया था।

श्रीदेवी ने बॉलीवुड में सदमा, हिम्मतवाला, नगीना, चालबाज़, मिस्टर इंडिया, लम्हे और जुदाई जैसी कई सुपरहिट फिल्में दी है ।

श्रीदेवी का नाम बॉलीवुड के इतिहास में हमेशा सबसे ऊपर रहेगा । वहीं जाहन्वी को अपनी मां की कमी तो कहीं न कहीं जरूर खलेगी । जाहन्वी जल्द ही फिल्म धड़क से बॉलीवुड में कदम रख रही हैं ।